Airlines May Get 10 Days Advance Alert To Restart Flights – Air Travel के लिए मिलेगा Advance Alert, 10 दिन पहले सरकार देगी सूचना!

0
34


  • मीडिया रिपोर्ट के अनुसार जून के पहले सप्ताह में शुरू हो सकती है हवाई सेवाएं
  • 10 दिन पहले सरकार देगी सूचना, उसके बाद ही टिकट बुकिंग की मिलेगी इजाजत

नई दिल्ली। देश में हवाई यात्रा ( Air Travel ) कब शुरू होगी और लॉकडाउन अब खत्म हो सकता है, इसके बड़े संकेत मिलते हुए दिखाई दिए हैं। मीडिया रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि देश में हवाई यात्रा जून के पहले सप्ताह में शुरू हो सकती है। वहीं हवाई यात्रा शुरू करने से 10 पहले सरकार खुद इस बारे में एडवांस में बताएगी। मतलब साफ है कि देश में कोरोना वायरस लॉकडाउन ( Coronavirus Lockdown ) जून से पहले खत्म होने के आसार नहीं दिख रहे हैं। वहीं देश की सभी एयरलाइन कंपनी ( Airline Companies ) को जून तक का इंतजार करना होगा। आपको बता दें कि कुछ दिन पहले देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की देश के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक हुई थी। जिन्होंने राज्यों में लॉकडाउन बढ़ाने की बात कही थी।

10 दिन पहले मिलेगी बुकिंग परमीशन
मीडिया रिपोर्ट में एविएशन मिनिस्ट्री में सूत्रों के अनुसार देश में हवाई सफर कब शुरू होगा यह इस बात पर डिपेंड करेगा कि देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या कितनी है और कितनी तेजी के साथ देश में फैल रहा है। सूत्रों के अनुसार वैसे मिनिस्ट्री एयर ट्रैवल को जून के पहले के सप्ताह में शुरू करने का मन बना रही है। इसका एक कारण यह भी है कि प्राइवेट एयरलाइन कंपनियों के नुकसान होने के कारण इंडस्ट्री के खतरे में जाने का अनुमान है। ऐसे में सरकार और मंत्रालय पर भी काफी दबाव देखने को मिल रहा है। सूत्रों की मानें तो मंत्रालय की योजना के अनुसार हवाई यात्रा के शुरू करने के 10 दिन पहले कंपनियों को टिकट बुकिंग की परमीशन दी जाएगी।

डॉमेस्टिक फ्लाइट्स तक ही रहेंगे सीमित
जानकारी के अनुसार जून के पहले सप्ताह में सिर्फ डॉमेस्टिक फ्लाइट्स को उड़ान भरने की परमीशन दी जाएगी। विदेशी यात्राओं पर अभी तक सरकार और मंत्रालय की ओर से कोई बातचीत नहीं हुई है। वास्तव में अमरीका और युरोप के कई देशों में कोरोना वायरस के खतरनाक असर को देखते हुए विदेशी यात्रा को अभी होल्ड पर ही रखने का फैसला हुआ है। आपको बता दें कि देश में 3 मई को लॉकडाउन का दूसरा चरण खत्म हो रहा है। वहीं सरकार की ओर से लॉकडाउन को आगे बढ़ाने या फिर किसी भी तरह की ढील की भी बात नहीं हुई है। लॉकडाउन से पहले भारतीय एयरलाइन कंपनियों के पास कुल 650 विमान थे। मौजूदा समय में 25 विमानों का यूज कॉर्गो ऑपरेशन में हो रहा है।

जानकारों का क्या कहना है?
वहीं दूसरी ओर इस सूचना पर एयराइन कंपनियां एकमत नहीं दिखाई दे रही हैं। इंडस्ट्री से जुड़े लोगों की मानें तो 10 दिन का समय काफी नहीं है। उनका मानना है कि उन्हें अपने नेटवर्क को जोडऩे, बेड़े को तैनात करने, सुरक्षा से जुड़े निर्देशों को लागू करने और पर्याप्त बुकिंग हासिल करने के लिए यह पर्याप्त समय नहीं है। वहीं कुछ लोगों का मानना है कि सरकार को इसके लिए दो से ढाई हफ्तों का समय देना चाहिए। देश के कई हिस्सों में लोग फंसे हुए हैं। जो अपने घरों को जाना चाहते हैं। इस लिहाज से डिमांड ज्यादा देखने को मिल सकती है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here