Amar Singh Apologises From Amitabh Bachchan On Over Reaction Against H – वरिष्ठ नेता अमर सिंह ने अस्पताल से अमिताभ बच्चन से मांगी माफी, लड़ रहे हैं ज़िंदगी और मौत की जंग

0
7


नई दिल्ली | समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता अमर सिंह और बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) एक जमाने में बहुत अच्छे दोस्त हुआ करते थे। लेकिन अमर सिंह की कुछ आपत्तिजनक टिप्पणियों ने दोनों के रिश्ते को बिखेर दिया। अब इतने सालों बाद एक बार फिर अमर सिंह (Amar Singh) ने अमिताभ बच्चन और उनकी फैमिली के लिए की गई टिप्पणियों पर पछतावा जाहिर किया है। अमर सिंह सिंगापुर के अस्पताल में भर्ती हैं, उनकी तबीयत काफी खराब चल रही है और वहीं से उन्होंने अमिताभ बच्चन के लिए ट्वीट के जरिए अपनी टिप्पणियों का अफसोस व्यक्त किया है।

वीडियो शेयर कर बताया अपना दर्द

अमर सिंह (Amar Singh) ने ट्वीट कर बताया कि आज मेरे पिता की पुण्यतिथि है और इसके लिए अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) जी का मैसेज आया है। जीवन के इस मोड़ पर जहां मैं जिंदगी और मौत से लड़ रहा हूं मुझे अफसोस है अमित जी और उनकी फैमिली के बारे में हद से ज्यादा बोलने का। भगवान सभी को अच्छा रखे। इसके अलावा अमर सिंह ने एक वीडियो भी जारी किया है जिसमें उन्होंने अमिताभ बच्चन और उनकी दोस्ती से लेकर तल्खियों तक का जिक्र किया है। अमर सिंह ने कहा कि इस ज़िंदगी के इस मोड़ पर मुझे लगता है कि अब अपनी गलतियों का खेद प्रकट कर देना चाहिए। इतने कटु वचन मुझे नहीं बोलने चाहिए थे।

क्यो आई थीं अमिताभ और अमर सिंह में दूरियां?

बता दें कि अमर सिंह (Amar Singh) अपनी गुर्दे की बिमारी का इलाज काफी लंबे समय से करा रहे हैं। सुत्रों के मुताबिक, अभी उनकी हालत काफी नाजुक बताई जा रही है। अमर सिंह ने दस साल पहले कहा था कि अमिताभ बच्चन और जया बच्चन अलग-अलग रह रहे हैं। उन्होंने बताया था कि एक प्रतीक्षा में रह रहा था और एक दूसरे बंगले जनक में रहा था। इसके अलावा उन्होंने ऐश्वर्या राय बच्चन और जया (Jaya Bachchan) के रिश्तों को लेकर भी काफी कुछ कहा था। अमर सिंह ने कहा था कि मैं इन सभी बातों के लिए दोषी नहीं हूं ऐसा पहले से चल रहा था। इसके बाद अमर सिंह ने अमिताभ का नाम पनामा पेपर्स लीक में आने पर कहा था कि उनकी चुप्पी उन्हें नायक से खलनायक बना देगी। इन्हीं सब बातों पर अब अमर सिंह ने माफी मांगी है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here