America: President Trump Slammed China, Said- Kept World In Deception To Handling Of Coronavirus – अमरीका: राष्ट्रपति ट्रंप ने चीन को लगाई फटकार, कहा- Coronavirus को लेकर दुनिया को धोखे में रखा

0
44


वाशिंगटन। महामारी बन चुके कोरोना वायरस से पूरी दुनिया में अब तक 14 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 3 लाख से अधिक लोग संक्रमित हैं। अब इस वायरस से बढ़ते खतरे के बीच अमरीका और चीन में फिर से टकराव बढ़ने की स्थिति नजर आ रही है।

दरअसल, अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन को लताड़ लगाई है। ट्रंप ने आरोप लगाया है कि चीन ने कोरोना वायरस के प्रकोप को लेकर दुनिया से जानकारी छिपाई और धोखे में रखा। ट्रंप ने कहा कि यदि बीजिंग पहले से ही चेतावनी दे देता तो अमरीका और पूरी दुनिया सजग और बेहतर तरीके से इस वायरस से लड़ने के लिए तैयार रहती।

डोनाल्ड ट्रंप पर मंडराया कोरोना वायरस का खतरा, संक्रमित ब्राजील के अधिकारी से मिलाया हाथ

ट्रंप ने उन सभी रिपोर्टों का खंडन किया, जिनमें कहा गया था कि जनवरी और फरवरी में अमरीकी खुफिया रिपोर्टों ने एक आने वाली महामारी की चेतावनी दी थी। उन्होंने कहा कि अमरीका को इस प्रकोप के बारे में तब तक नहीं पता था जब तक कि वह सार्वजनिक रूप से बाहर नहीं आना शुरू हुआ।

उन्होंने कहा कि इस वायरस से किसी को कोई फायदा नहीं हुआ है। चीन में हजारों-हजार लोग इसके शिकार हुए हैं। मैंने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से बात की है। मैं बस चाहता हूं कि वे हमें पहले बता सकते थे। उन्हें इस समस्या के बारे में पहले पता था।

राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मेरे अच्छे संबंध हैं: ट्रंप

ट्रंप ने कहा कि चीन कोरोना वायरस को लेकर बहुत ही सतर्क था और इसे गुप्त रखा। जो कि बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। ट्रंप ने दोहराया कि वह चीन का बहुत सम्मान करते हैं और अपने चीनी समकक्ष शी जिनपिंग के साथ बहुत अच्छे संबंध हैं, लेकिन उन्होंने निराशा व्यक्त की कि कोरोना वायरस की गंभीरता के बारे में दुनिया को सतर्क करने के लिए बींजिंग ने धोखा दिया।

उन्होंने आगे कहा कि मेरे मन में उस देश (चीन) के लिए बहुत सम्मान है। मेरा उस देश के नेता (जिनपिंग) और उनके जैसे लोगों के प्रति बहुत सम्मान है। वह मेरा एक दोस्त है लेकिन मैं चाहता हूं कि वे हमें पहले ही बता देते, कि उन्हें कोई समस्या हो रही है।

ट्रंप ने कहा कि चीन को एक बड़ी समस्या हो रही थी और वे (जिनपिंग) इसे जानते थे, और मेरी इच्छा थी कि वे हमें अग्रिम चेतावनी दे सकते थे। क्योंकि हम बहुत सी चीजें कर सकते थे- उदाहरण के तौर पर, कुछ ऐसी चीजें जिनके बारे में हम बात कर रहे हैं, जहां हम उन्हें जितनी जल्दी हो सके उतना जल्दी ऑर्डर करते हैं। अगर हमारे पास समय में दो या तीन महीने का अंतर होता, तो यह बहुत बेहतर होता।

अमरीका में 340 की मौत

आपको बता दें कि कोरोना वायरस की वजह से पूरी दुनिया में 14 हजार से अधिक लोग मर चुके हैं। इसमें सबसे अधिक इटली में मामले सामने आए हैं। इटली में कोरोना वायरस से अब तक 5500 से अधिक की मौत हो चुकी है, वहीं चीन में 3200 से अधिक और ईरान में 1,556, स्पेन में 1,378 और फ्रांस में 562 लोग जान गवां चुके हैं।

यूरोपीय देशों में और कहर बरपाएगा कोरोना वायरस, यूएस में 22 लाख और ब्रिटेन में 5 लाख लोगों की जान खतरे में

वहीं अमरीका में इस वायरस की वजह से अब तक 340 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि भारत में 9 लोगों की मौत हुई है। पूरी दुनिया में 3 लाख से अधिक लोग इस वायरस से संक्रमित हैं।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here