Ashwin Admitted, Team India Is Struggling In The First Test – रविचंद्रन अश्विन ने माना, पहले टेस्ट में संघर्ष कर रही है टीम इंडिया

0
7


RaviChandran Ashwin ने कहा कि टीम इंडिया के बल्लेबाजों को सतर्क होकर खेलना होगा। अभी पिच बल्लेबाजी के लिए अच्छी हो गई है।

वेलिंगटन : पहली पारी में अच्छी गेंदबाज करने वाले दिग्गज ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (RaviChandran Ashwin) का मानना है कि न्यूजीलैंड के खिलाफ जारी टेस्ट मैच में 144 रन पर चार विकेट खो चुकी टीम इंडिया (Team India) के आने वाले बल्लेबाजों को सतर्क होकर बल्लेबाजी करने की जरूरत है। बता दें कि टीम इंडिया पहली पारी में महज 165 रन पर आलआउट हो गई थी। इसके बाद न्यूजीलैंड की टीम को भारत ने 348 रन पर रोक दिया था। हालांकि इसके बावजूद पहली पारी के आधार पर कीवी टीम को 183 रन की बड़ी बढ़त हासिल हो गई थी।

शाई होप का शतक बेकार, रोमांचक वनडे में श्रीलंका ने विंडीज को दी एक विकेट से मात

ईशांत और अश्विन ने की थी शानदार गेंदबाजी

कीवी टीम को 348 रन पर समेटने में भारत के तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा के साथ ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने बड़ी भूमिका निभाई थी। ईशांत ने पहली पारी में 22.2 ओवर में 68 रन देकर जहां पांच विकेट लिए थे वहीं रविचंद्रन अश्विन ने 29 ओवर में 99 रन देकर तीन विकेट चटकाए थे। हालांकि भारतीय गेंदबाजों के इस शानदार प्रयास पर अभी तक भारतीय बल्लेबाज पानी फेरते नजर आ रहे हैं। टीम इंडिया अपनी दूसरी पारी में भी अब तक 144 रन बनाए हैं और वह अपने अहम चार विकेट खो चुकी है। टीम इंडिया कीवी टीम की पहली पारी से अब भी 39 रन पीछे हैं, जबकि कीवी टीम की दूसरी पारी भी बची हुई है।

भारतीय बल्लेबाजों को रहना होगा सतर्क

भारतीय टीम की अब सारी उम्मीदें अब तीसरे दिन स्टंप के समय तक नाबाद उपकप्तान अजिंक्य रहाणे और हनुमा विहारी पर टिकी हुई है। रहाणे 67 गेंदों पर 25 और विहारी 70 गेंदों पर 15 रन बनाकर क्रीज पर टिके हुए हैं। इन दोनों के बीच अब तक पांचवें विकेट के लिए 31 रन की साझेदारी हुई है। अगर टीम इंडिया को इस टेस्ट मैच में हार से बचना है तो इन दोनों को असाधारण प्रदर्शन करना होगा। अश्विन भी मानते हैं कि इन दोनों के अलावा आने वाले बाकी बल्लेबाजों चौथे दिन सतर्क होकर बल्लेबाजी करनी होगी।

IND vs NZ : पहले टेस्ट में भारत पर मंडरा रहा है हार का खतरा, दूसरी पारी में 144 पर चार विकेट खोए

अश्विन बोले, सकारात्मक प्रयास की जरूरत

अश्विन ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने के बाद अपनी सफलता का राज खोलते हुए कहा कि उनकी कामयाबी का एकमात्र रहस्य है सकारात्मक प्रयास करना। वह अतीत में इसी तरह कामयाब रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह भारतीय गेंदबाजी के दौरान उसी तरह से खेले। साथ में उन्होंने कहा कि वह थोड़ा सावधान जरूर रहे। उन्होंने ऐसा ही प्रयास घरेलू मैचों के दौरान भी किया था। अपनी बल्लेबाजी के बारे में उन्होंने कहा कि वह उम्मीद है कि वह बल्लेबाजी के दौरान भी ऐसा करने में कामयाब रहेंगे। पहले वह गेंद को देखेंगे और उसके बाद हिट करने की कोशिश करेंगे।

हम ऐसी स्थिति में नहीं कि कुछ कह सकें

अश्विन ने माना कि टीम इंडिया पहले टेस्ट में मैच बचाने के लिए संघर्ष कर रही है। उन्होंने कहा कि वह चीजों को सरल रखना चाहेंगे। वह यह नहीं कहेंगे कि इस लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है और इसे नहीं। अभी छह सत्र और खेले जाने हैं। फिलहाल हम ऐसी स्थिति में भी नहीं हैं कि कह सकें कि बचाव के लिए क्या अच्छा टोटल क्या होगा। उन्होंने कहा कि अगर हम उन्हें रोकने में कामयाब होते हैं तो हमारे लिए मैच में अच्छा अवसर है। लेकिन यह अभी दूर की बात है। हमें पहले हर गेंद को खेलना होगा, क्योंकि अभी पिच बल्लेबाजी के लिए अच्छी है।








LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here