Before Trump’s visit to India, PAK said

0
25


इस्लामाबाद। अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( US President Donald Trump ) 24-25 फरवरी को अपने पहले आधिकारिक दौरे पर भारत ( Trump India Visit ) आ रहे हैं। इसको लेकर ट्रंप व उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप ( Melania Trump ) काफी उत्साहित हैं। लेकिन ट्रंप के भारत दौरे से पाकिस्तान में हड़कंप मचा हुआ है।

पाकिस्तान ने एक बार फिर से कश्मीर का राग अलापना शुरू कर दिया है और ट्रंप के मध्यस्थता प्रस्ताव ( Mediation Proposal ) पर अमल करने की बात करना शुरू कर दिया है। पाकिस्तान ( Pakistan ) ने गुरुवार को कहा कि अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कई बार कश्मीर मामले में मध्यस्थता की पेशकश कर चुके हैं। अब समय आ गया है कि ट्रंप के इस प्रस्ताव पर ठोस रूप से अमल किया जाए।

अमरीका: संसद से झूठ बोलने पर राष्ट्रपति ट्रंप के करीबी स्टोन दोषी करार, 20 फरवरी को सजा का एलान

पाकिस्तान ने इसी के साथ अमरीका द्वारा भारत को एयर डिफेंस वेपन सिस्टम ( Air defense weapon system ) बेचे जाने की रिपोर्ट पर चिंता जताई है। पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता आयशा फारूकी ( Ayesha Farooqui ) ने गुरुवार को अपनी साप्ताहिक प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप एक से अधिक बार कश्मीर मामले में मध्यस्थता की पेशकश कर चुके हैं।

पाकिस्तान चाहता है कि इस प्रस्ताव पर अब ठोस रूप से अमल हो और उसे उम्मीद है कि राष्ट्रपति ट्रंप अपने भारत दौरे के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस बारे में बात करेंगे।

भारत को एयर डिफेंस सिस्टम मिलने पर PAK हुआ बैचेन

फारूकी ने भारत पर ‘संघर्षविराम करार के लगातार उल्लंघन’ का आरोप लगाया और कहा कि पाकिस्तान को इस बात की आशंका है कि तुर्की के राष्ट्रपति और संयुक्त राष्ट्र महासचिव के पाकिस्तान दौरे और ट्रंप के भारत दौरे के बीच ‘भारत कश्मीर की स्थिति से ध्यान हटाने के लिए कोई फॉल्स फ्लैग ऑपरेशन कर सकता है।’

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने अमरीका द्वारा भारत को एयर डिफेंस सिस्टम बेचे जाने की रिपोर्ट पर भी चिंता जताई। पाकिस्तानी मीडिया की रिपोर्ट में कहा गया है कि इस आशय की रिपोर्ट हैं कि ट्रंप प्रशासन ने भारत को 1.8 अरब डालर कीमत का अत्याधुनिक एयर डिफेंस वेपन सिस्टम बेचे जाने पर मुहर लगा दी है।

अमरीका: भारत के नए राजदूत ने ट्रंप को सौंपे दस्तावेज, वाइट हाउस में आयोजित हुआ विशेष कार्यक्रम

इस पर प्रवक्ता ने कहा कि अमरीका के इस कदम से दक्षिण एशिया में हथियारों की होड़ और पहले से ही तनाव से गुजर रहे इस इलाके में अस्थिरता बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि भारत और अमेरिका के बीच के रक्षा संबंध दक्षिण एशिया की शांति और सुरक्षा के लिए अस्थिरता पैदा कर रहे हैं।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.















LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here