Bird Flu Knock After Coronavirus In China, Panic Among People – चीन में कोरोनावायरस के कहर के बीच अब बर्ड फ्लू ने भी दी दस्तक, लोगों में दहशत

0
27


सांकेतिक तस्वीर
– फोटो : अमर उजाला ग्राफिक्स

ख़बर सुनें

चीन में जानलेवा कोरोनावायरस के बाद अब बर्ड फ्लू की दस्तक से लोग दहशत में हैं। कोरोनावायरस से चीन में अब तक 305 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 14,562 लोग इसकी चपेट में हैं। अब हुनान प्रांत में शुआंगक्विंग डिस्ट्रिक के रविवार को एक पोल्ट्री फार्म में हजारों मुर्गियां मृत पाई गईं। शुआंगक्विंग हुबेई प्रांत की दक्षिणी सीमा पर स्थित है, जहां इस समय कोरोनावायरस ने कहर बरपाया हुआ है। हालांकि अभी तक हुनान प्रांत में किसी मनुष्य में एच5एन1 वायरस की पुष्टि नहीं हुई है। 

चीन के कृषि व ग्रामीण मामलों के मंत्रालय ने रविवार को बताया, श्याओयांग शहर के एक पोल्ट्री फार्म में यह घटना हुई है। इस फार्म में 7500 मुर्गियां है, जिनमें से 4500 मुर्गियां मृत पाई गईं। स्थानीय प्रशासन ने अब तक 17,828 मुर्गियों को एहतियातन मार दिया है। बर्ड फ्लू ऐसे समय फैला है, जब चीनी सरकार को कोरोनावायरस को फैलने से रोकने को लेकर कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है।

चीन ने 12 शहरों में लोगों की आवागमन और यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया, जिससे करीब 5.6 करोड़ लोग अपने घरों में ‘कैद’ होने पर मजबूर हैं। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने कहा कि शनिवार को 4.562 नए मामले सामने आए हैं। चीन के अलावा करीब 25 देशों में यह वायरस सैकड़ों लोगों को अपनी चपेट में ले चुका है।     

फिलीपींस में एक फरवरी को चीन के 44 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई। वह वुहान से 21 जनवरी को अपनी महिला मित्र के साथ फिलीपींस पहुंचा था। फिलीपींस में डब्ल्यूएचओ की प्रतिनिधि राबिंद्रा अबेयासिंघे ने बताया यह चीन के बाहर कोरोना से मौत का पहला मामला है।

वहीं, यूएई ने पांच और अमेरिका ने आठ मामलों की पुष्टि की है। इस बीच, चीन में पाकिस्तान की राजदूत नगमाना हाशमी ने रविवार को कहा कि पाकिस्तानी छात्रों को वुहान से एयरलिफ्ट नहीं किया जाएगा क्योंकि उनके देश में कोरोना से पीड़ित मरीज के इलाज की सुविधाएं उपलब्ध नहीं हैं। 

चीनी नागरिकों को होना पड़ रहा अपमानित 

चीन में कोरोना वायरस के कहर के बीच दुनिया भर में उसके खिलाफ भावनाएं भी बढ़ती जा रही हैं। कई देशों ने चीन के यात्रियों पर प्रतिबंध लगा दिए हैं तो कई रेस्तराओं से चीनी नागरिकों को अपमानित होकर लौटना पड़ रहा है। दक्षिण कोरिया, जापान, हांगकांग और वियतनाम में कई रेस्तराओं ने चीनी ग्राहकों से दूरी बना ली है।

इंडोनेशिया में एक होटल तक स्थानीय लोगों ने चीन पर्यटकों के खिलाफ नारेबाजी की और उन्हें वहां से जाने को कहा। फ्रांस और ऑस्ट्रेलिया के कई अखबारों की आलोचना उनकी नस्लवादी टिप्पणियों के लिए हो रही है। चीन और एशिया के अन्य हिस्सों के लोग यूरोप और अमेरिका में नस्लवाद का सामना करने की शिकायत कर रहे हैं।

चीन का केंद्रीय बैंक अर्थव्यवस्था में 173 अरब डॉलर (करीब 12.3 लाख करोड़  रुपये) झोंकेगा ताकि कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई को मजबूती मिल सके। बैंक ने वायरस के खिलाफ लड़ाई में मदद करने वाली मेडिकल कंपनियों व उद्यमों को मौद्रिक व ऋण सहायता बढ़ाने के लिए कई उपायों की घोषणा की थी। 

चीन से लौटे यात्रियों के इस्राइल में घुसने पर रोक  

इस्राइल ने पिछले दो सप्ताह में चीन की यात्रा करने वाले यात्रियों के देश में घुसने पर प्रतिबंध लगा दिया है। इस्राइल के गृहमंत्रालय ने बताया कि यह प्रतिबंध इस्राइल के नगारिकों पर लागू नहीं होगा। इससे पहले, इस्राइल ने बृहस्पतिवार को चीन से आने वाली सभी उड़ानों पर रोक लगा दी थी। अब वह दुनिया का तीसरा देश बन गया है, जिसने 14 दिन के भीतर चीन की यात्रा करने वाले विदेशी नागरिकों के प्रवेश पर पाबंदी लगाई है। 
 

चीन में जानलेवा कोरोनावायरस के बाद अब बर्ड फ्लू की दस्तक से लोग दहशत में हैं। कोरोनावायरस से चीन में अब तक 305 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 14,562 लोग इसकी चपेट में हैं। अब हुनान प्रांत में शुआंगक्विंग डिस्ट्रिक के रविवार को एक पोल्ट्री फार्म में हजारों मुर्गियां मृत पाई गईं। शुआंगक्विंग हुबेई प्रांत की दक्षिणी सीमा पर स्थित है, जहां इस समय कोरोनावायरस ने कहर बरपाया हुआ है। हालांकि अभी तक हुनान प्रांत में किसी मनुष्य में एच5एन1 वायरस की पुष्टि नहीं हुई है। 

चीन के कृषि व ग्रामीण मामलों के मंत्रालय ने रविवार को बताया, श्याओयांग शहर के एक पोल्ट्री फार्म में यह घटना हुई है। इस फार्म में 7500 मुर्गियां है, जिनमें से 4500 मुर्गियां मृत पाई गईं। स्थानीय प्रशासन ने अब तक 17,828 मुर्गियों को एहतियातन मार दिया है। बर्ड फ्लू ऐसे समय फैला है, जब चीनी सरकार को कोरोनावायरस को फैलने से रोकने को लेकर कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है।

चीन ने 12 शहरों में लोगों की आवागमन और यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया, जिससे करीब 5.6 करोड़ लोग अपने घरों में ‘कैद’ होने पर मजबूर हैं। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने कहा कि शनिवार को 4.562 नए मामले सामने आए हैं। चीन के अलावा करीब 25 देशों में यह वायरस सैकड़ों लोगों को अपनी चपेट में ले चुका है।     


आगे पढ़ें

चीन के बाहर कोरोना से हुई पहली मौत 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here