Britain Oxford University Professor Claim Corona Vaccine Will Come In September – कोरोना से जंग के बीच वैज्ञानिकों का दावा, सितंबर तक आ जाएगी वैक्सीन

0
52


नई दिल्ली। देशभर में कोरोना वायरस ( Coronavirus in india ) लगातार अपने पैर पसार रहा है। अब तक देश में 14000 से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 450 से ज्यादा लोगों ने इस घातक वायरस की वजह से अपनी जान गंवा दी है। हालांकि स्वास्थ्य मंत्रालय ( Health Ministry ) की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक बाकी देशों की तुलना में भारत में कोरोना वृद्धि दर में 40 फीसदी की गिरावट दर्ज की है। हालांकि अब भी पूरी दुनिया कोरोना को मात देने के लिए इसकी वैक्सीन ( Corona Vaccine ) बनाने में जुटी है।

इस बीच एक राहत भरी खबर सामने आई है। दुनियाभर में कोरोना को लेकर चल रहे शोध में शामिल ब्रिटेने ( Britain ) ने दावा किया है कि जल्द ही कोरोना की वैक्सीन तैयार हो जाएगी और इसके सितंबर तक बाजार में आने की उम्मीद है।

लॉकडाउन-2 के बीच आई अच्छी खबर, प्राइवेट स्कूल नहीं बढ़ाएंगे इस वर्ष फीस!

भारत के साथ-साथ दुनिया के तमाम देश इस वक्त कोरोना वायरस से जैसी महामारी की काट ढूंढने में जुटे हुए हैं। सर्वाधिक प्रभावित देशों की सूची में शामिल ब्रिटेन भी उन देशों की फेहरिस्त में शामिल है, जहां के वैज्ञानिक कोरोना का उपचार खोजने के लिए शोध कर रहे हैं। ब्रिटेन के ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय ( Oxford University ) में वैक्सीनोलॉजी डिपार्टमेंट की प्रोफेसर सारा गिल्बर्ट ने कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने का दावा किया है।

योजना बनाकर ‘एक्स’ को मात
प्रोफेसर गिलबर्ट ने वैक्सीन के सितंबर तक आ जाने का दावा करते हुए कहा कि हम महामारी का रूप लेने वाली एक बीमारी पर काम कर रहे थे, जिसे एक्स नाम दिया गया था। इसके लिए हमें योजना बनाकर काम करने की जरूरत थी।

अब तक हो चुके 12 परीक्षण
गिलबर्ट के मुताबिक ChAdOx1 तकनीक के साथ इसके 12 परीक्षण किए जा चुके हैं। हमें एक डोज से ही इम्यून को लेकर बेहतर परिणाम मिले हैं, जबकि RNA और DNA तकनीक से दो या दो से अधिक डोज की जरूरत होती है।

2025 फिर लौटकर आएगा कोरोना वायरस, जानिए क्यों दी वैज्ञानिकों ने चेतावनी

इसी वर्ष सितंबर तक उपलब्ध होगी वैक्सीन
कोरोना से जंग के बीच प्रोफेसर गिलबर्ट ने एक और बड़ी जानकारी साझा की। उन्होंने कहा कि तैयार की जा रही वैक्सीन का ट्रायल शुरू हो चुका है। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि हमें भरोसा है कि ये पूरी तरह सफल होगा और इसकी एक मिलियन यानी दस लाख डोज इसी साल सितंबर तक उपलब्ध हो जाएंगे।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here