Chief Minister Orders Ban On Film ‘shooter This Is The Big Reason! – खूंखार शख्स पर बनी फिल्म ‘शूटर’ पर मुख्यमंत्री ने दिया बैन लगाने का आदेश, बताई यह बड़ी वजह!

0
22


नई दिल्ली। बॉलीवुड में इऩ दिनों किसी भी मशहूर शख्स पर अधारित फिल्में ज्यादा बनती हुई देखी जा रही है। यह फिल्म फिर चाहे किसी महापुरूष के लिए बनी हुई हो या फिर खिलाड़ी, या कोई खूखार व्यक्ति। एक ओर जहां ऐसी फिल्में समाज या देश को अच्छा सदेंश देती है तो कुछ फिल्में समाज में अराजकरता फैलाने का काम करती है उन्ही में से एक है पंजाब के मशहूर शार्प शूटर सुखा काहलवां (Sukha Kahlwan) के जीवन पर बनी फिल्म ‘शूटर’ (Shooter)। जिसे लेकर काफी बबाल मचा हुआ है यह फिल्म इसी महीने 21 तारीख को रिलीज होने वाली थी, लेकिन फिल्म के रिलीज होने से पहले ही इस पर बैन लगा दिया गया है और इस के लिये खुद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (CM Amrinder Singh) ने फिल्म को रिलीज करने से रोक लगाई। क्योकि मुख्यमंत्री का मानना है कि यह फिल्म हिंसा, अपराध, धमकी और वसूली को बढ़ावा देने वाली है। फिल्म ‘शूटर’ पंजाब के जाने-माने गैंगस्टर सुखा काहलवां के जीवन पर आधारित है।

इस फिल्म को रोक लगाने के लिए पंजाब में कई संगठन भी इसका घोर विरोध कर रहे हैं। आरोप है कि ‘शूटर’ फिल्म के जरिए अपराध, गैंगस्टर और गन कल्चर को बढ़ावा मिलेगा। पंजाब सरकार ने इस फिल्म पर काफी विचार करते हुए बैन लगाने का आदेश दिया है साथ ही फिल्म के एक प्रोड्यूसर केवी ढिल्लों के खिलाफ एक्शन लेने के लिए भी कहा है। ढिल्लों ने साल 2019 में लिखित में दिया था कि वे इस फिल्म को बंद कर देंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ जिसके बाद पंजाब सरकार ने एक्शन लिया। पंजाब में गन कल्चर को प्रमोट करने वाले गाने बजाने पर रोक है।

कौन था सुक्खा काहलवां
गैंगस्टर और शार्प शूटर सुक्खा काहलवां एक ऐसा खुखांर इंसान थी जिसका आंतक किसी एक जगह नही बल्कि पंजाब और उसके आस-पास के प्रदेशों में फैला था। काफी कम समय में ही सुख्या नें अपने आतंक से एक गैंग बनाकर हर जगह कोहराम मचा दिया था। लेकिन साल 2015 में यह खूंखार किसी तरह से पुलिस के चंगुल में फंस गया और जिस समय पुलिस कहलवां को नाभा जेल से जालंधर पेशी कराकर नाभा जेल वापस लेकर जा रही थी।उसी दौरान विक्की गौंडर गैंग ने हाईवे पर रोक कर सुक्खा की हत्या कर दी थी।

बताया जाता है कि जालंधर-फगवाडा हाईवे के दूसरी ओर से दो लग्जरी गाड़िया आईं और पुलिस की गाड़ी को रोककर तीन सूबों के मोस्ट वांटेड रहे काहलवां पर फिल्मी स्टाइल में गोलियां दाग कर हत्या कर दी थी। काहलवां पर कई हत्या, लूटपाट और जेल से भागने के संगीन मामले दर्ज थे। वह पंजाब, हरियाणा, राजस्थान पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ था। सुक्खा जालंधर के गांव काहलवां का रहने वाला था और सबसे पहले उसका नाम लिद्दड़ा डबल मर्डर केस में आया था।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here