China bans wild animal trade due to corona virus

0
5


चीन ने कोरोना वायरस के चलते सोमवार को जंगली जानवरों के व्यापार और उनके उपभोग पर व्यापक रोक लगाने की घोषणा की है। जंगली जानवरों के व्यापार और उपभोग को जानलेवा कोरोना वायरस के लि जिम्मेदार माना जा रहा है। देश की शीर्ष विधायी समिति नेशनल पीपुल्स कांग्रेस (एनपीसी) ने  जंगली जानवरों के अवैध व्यापार, अत्याधिक उपभोग की खराब आदत पर रोक लगाने और लोगों के जीवन तथा स्वास्थ्य के प्रभावी संरक्षण से संबंधित प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। 

इससे पहले 2002-2003 में ‘सार्स’ वायरस फैलने के दौरान जंगली जानवरों के व्यापार और उपभोग पर अस्थायी पाबंदी लगाई गई थी। सार्स के कारण सैंकड़ों लोगों की मौत हो गई थी। चाइना सेन्ट्रल टेलीविजन (सीसीटीवी) ने कहा कि कोरोनो वायरस महामारी ने जंगली जानवरों के अत्यधिक उपभोग की बड़ी समस्या और इससे जन स्वास्थ्य तथा सुरक्षा को होने वाले खतरों को उजागर किया है।

चीन में महामारी बन चुके कोरोना वायरस से 150 और लोगों की मौत होने के बाद इस घातक वायरस के संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़ कर सोमवार को 2,592 हो गई। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) ने बताया कि 150 में से 149 लोगों की मौत हुबेई प्रांत में हुई है, जहां इस वायरस का सबसे अधिक प्रकोप है। आयोग ने 409 नए मामलों के सामने आने की पुष्टि भी की, जिनमें से अधिकतर हुबेई प्रांत में हैं।

बता दें कि कोरोना वायरस इटली में भी अपना पैर पसारने लगा है। इटली ने कोरोना वायरस से चौथी मौत होने की सोमवार को जानकारी दी। यह मामला उत्तरी लोमबार्दिया क्षेत्र का है जहां 84 साल के एक व्यक्ति की इस वायरस से मौत हो गई। देश में वायरस से संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है। क्षेत्र के स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि यह लोमबार्दिया में तीसरी मौत है जहां बीमारी के प्रसार को रोकने के लिए गांवों में लोगों की आवाजाही बंद कर दी गई है और सुरक्षा उपाय लागू हैं। प्रधानमंत्री जुजेपे कोंते ने कहा कि वायरस के प्रकोप को कम करने के प्रयासों के तहत निवासियों को हफ्ते तक घरों में बंद रहना पड़ सकता है।

यह भी पढ़ें- नहीं थम रहा कोरोना वायरस का कहर, चीन में मौत का आंकड़ा 2,592 पहुंचा


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here