China To Hold Annual Parliament Session From May 22 Amid Coronavirus Pandemic – चीन 22 मई से संसद का वार्षिक सत्र आयोजित करेगा, दुनिया जूझ रही कोरोना संकट से

0
39


ख़बर सुनें

कोरोना संकट से उबरने का दावा कर रहा चीन 22 मई से संसद का वार्षिक सत्र आयोजित करने जा रहा है। सरकारी मीडिया ने बुधवार को यह जानकारी दी।

सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने बताया कि 13वीं नेशनल पीपुल्स कांग्रेस का तीसरा सत्र पहले पांच मार्च को आयोजित किया जाना था, लेकिन कोरोना वायरस के कारण इसे स्थगित कर दिया गया था। अब यह 22 मई से बीजिंग में शुरू होगा।

उसने बताया कि यह फैसला नेशनल पीपुल्स कांग्रेस (एनपीसी) की स्थायी समिति के नियमित सत्र में लिया गया। इससे पहले एनपीसी की स्थायी समिति ने फरवरी में बीजिंग में बैठक की थी और देश में कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी के कारण चीन की सबसे बड़ी राजनीतिक घटनाओं में से एक, एनपीसी के वार्षिक सत्र को स्थगित करने के मसौदे के फैसले को मंजूरी दे दी थी।

सोमवार तक, चीन में कुल पुष्ट मामले 82,836 तक पहुंच गए, जिनमें 648 ऐसे मरीज शामिल हैं जिनका अभी भी इलाज किया जा रहा है और 77,555 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई थी। चीन में आयातित मामले बढ़कर 1,639 हो गए हैं। जिनमें से 552 का इलाज किया जा रहा है और 21 गंभीर स्थिति में हैं।

इसके अलावा सोमवार को, 40 नए बिना लक्षण के (असिम्प्टोमटिक) मामले सामने आए थे, जिनमें तीन विदेश से आए नागिरक शामिल हैं। साथ ही बीजिंग में अधिकारी कोविड-19 विशेष अस्पताल में भर्ती सभी मरीजों के स्वस्थ होने के बाद इसे बंद करने की तैयारी में जुट गए हैं।

अस्पताल को बंद करने का यह कदम तब उठाया गया है जब चीन में कोरोना वायरस के केंद्र वुहान ने हाल में 16 अस्थाई अस्पतालो को बंद कर दिया और अपने अंतिम मरीज को रविवार को छुट्टी दे दी।

कोरोना संकट से उबरने का दावा कर रहा चीन 22 मई से संसद का वार्षिक सत्र आयोजित करने जा रहा है। सरकारी मीडिया ने बुधवार को यह जानकारी दी।

सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने बताया कि 13वीं नेशनल पीपुल्स कांग्रेस का तीसरा सत्र पहले पांच मार्च को आयोजित किया जाना था, लेकिन कोरोना वायरस के कारण इसे स्थगित कर दिया गया था। अब यह 22 मई से बीजिंग में शुरू होगा।
उसने बताया कि यह फैसला नेशनल पीपुल्स कांग्रेस (एनपीसी) की स्थायी समिति के नियमित सत्र में लिया गया। इससे पहले एनपीसी की स्थायी समिति ने फरवरी में बीजिंग में बैठक की थी और देश में कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी के कारण चीन की सबसे बड़ी राजनीतिक घटनाओं में से एक, एनपीसी के वार्षिक सत्र को स्थगित करने के मसौदे के फैसले को मंजूरी दे दी थी।

सोमवार तक, चीन में कुल पुष्ट मामले 82,836 तक पहुंच गए, जिनमें 648 ऐसे मरीज शामिल हैं जिनका अभी भी इलाज किया जा रहा है और 77,555 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई थी। चीन में आयातित मामले बढ़कर 1,639 हो गए हैं। जिनमें से 552 का इलाज किया जा रहा है और 21 गंभीर स्थिति में हैं।

इसके अलावा सोमवार को, 40 नए बिना लक्षण के (असिम्प्टोमटिक) मामले सामने आए थे, जिनमें तीन विदेश से आए नागिरक शामिल हैं। साथ ही बीजिंग में अधिकारी कोविड-19 विशेष अस्पताल में भर्ती सभी मरीजों के स्वस्थ होने के बाद इसे बंद करने की तैयारी में जुट गए हैं।

अस्पताल को बंद करने का यह कदम तब उठाया गया है जब चीन में कोरोना वायरस के केंद्र वुहान ने हाल में 16 अस्थाई अस्पतालो को बंद कर दिया और अपने अंतिम मरीज को रविवार को छुट्टी दे दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here