Corona Virus And Domestic Developments Will Be Impact On Share Market – शेयर बाजार पर रहेगा कोरोना वायरस और घरेलू घटनाक्रमों का दिखेगा असर

0
24


नई दिल्ली। चीन में फैले कोरोना वायरस के प्रकोप का असर इस सप्ताह भी शेयर बाजार पर रहेगा, क्योंकि इससे भारत समेत दुनियाभर में कारोबार पर असर पड़ा है। भारतीय शेयर बाजार को इस सप्ताह विदेशी संकेतों, प्रमुख आर्थिक आंकड़ों और अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में होने वाले उतार-चढ़ाव से दिशा मिलेगी। इसके अलावा, टेलीकॉम कंपनियों के एजीआर (एडजस्टेड ग्रॉस रिवेन्यू) बकाए का भुगतान के मसले को लेकर होने वाले घटनाक्रमों पर भी बाजार की नजर होगी। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का अनुपालन नहीं करने को लेकर शीर्ष अदालत ने पिछले सप्ताह टेलीकॉम कंपनियों और सरकारी अधिकारियों को फटकार लगाई थी।

यह भी पढ़ेंः- AGR Due Case : भुगतान ना करने पर बैंक गारंटी गंवा सकती हैं टेलीकॉम कंपनियां

कोरोना वायरस के कहर और कुछ घरेलू कारकों से पिछले सप्ताह उतार-चढ़ाव का दौर बना रहा, जिसका असर इस सप्ताह भी देखने को मिल सकता है। इसके अलावा, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) के निवेश के प्रति रुझान पर भी बाजार की नजर बनी रहेगी। इस महीने हुई भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक के विवरण सप्ताह के दौरान गुरुवार को जारी होंगे, जिसका बाजार को इंतजार रहेगा। आरबीआई ने चालू वित्त वर्ष की आखिरी द्विमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक में प्रमुख ब्याज दर यानी रेपो रेट को यथावत 5.15 फीसदी रखने का फैसला लिया।

यह भी पढ़ेंः- आरबीआई गर्वनर ने दिए संकेत, वाणिज्यिक बैंक और घटा सकते हैं ब्याज दर

वहीं, कारोबारी सप्ताह के आखिर में शुक्रवार को महाशिवरात्रि का अवकाश होने के कारण भारतीय शेयर बाजार में कारोबार बंद रहेगा। इस प्रकार इस सप्ताह सिर्फ चार दिन ही शेयर बाजार में कारोबार होगा। उधर, विदेशों में इस सप्ताह कई प्रमुख आर्थिक आंकड़े जारी होंगे जिसका असर शेयर बाजार पर देखने को मिलेगा। सप्ताह के आरंभ में ही सोमवार को जापान में चौथी तिमाही के आर्थिक विकास दर के प्रारंभिक अनुमान जारी होंगे। इसके साथ-साथ बीते दिसंबर महीने के औद्योगिक उत्पादन के आंकड़े भी उसी दिन जारी होने की संभावना है।

यह भी पढ़ेंः- आरबीआई गवर्नर ने कहा, वित्त वर्ष 2021 में 6 फीसदी जीडीपी वृद्धि दर पर कायम

यूरोप में इस सप्ताह यूरो एरिया मार्किट मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई और मार्किट सर्विसेज पीएमआई के फरवरी के आंकड़े शुक्रवार को आने वाले हैं। इससे पहले गुरुवार को कंज्यूमर कान्फिडेंस के आंकड़े जारी होंगे। अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व की फेडरल ओपन मार्किट कमिटी (एफओएमसी) गुरुवार को बीते महीने हुई बैठक के विवरण जारी करेगी।

यह भी पढ़ेंः- Petrol Diese Price Today : डीजल 7 पैसे प्रति लीटर सस्ता, पेट्रोल लगातार 5वें दिन स्थिर

इसके बाद शुक्रवार को यूएस मार्किट मैन्युफैक्चरिंग और मार्किट सर्विसेज पीएमआई के फरवरी महीने के आंकड़े जारी होंगे। बहरहाल, बाजार पर इस समय सबसे ज्यादा असर चीन में फैले कोरोना वायरस का देखा जा रहा है। कोरोना वायरस का प्रकोप चीन में महामारी का रूप ले चुका है और इसकी चपेट में आने से 1,600 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here