Coronavirus: वायरस से रोकथाम के लिए जुटाई गई सूचना का इस्तेमाल दूसरे उद्देश्यों के लिए नहीं

0
46



बीजिंग। तेजी के साथ फैलते जा रहे जानलेवा कारोना वायरस ( Coronavirus ) के बढ़ते प्रभाव के मद्देनजर इसके रोकथाम को लेकर तमाम तरह के उपाय किए जा रहे हैं और तमाम जानकारियां जुटाई जा रही है।

इस बीच चीन के सेंट्रल साइबरस्पेस अफेयर्स कमीशन ( Central Cyberspace Affairs Commission of China ) ने कहा है कि कोरोन वायरस के प्रकोप के बीच महामारी की रोकथाम के प्रयासों के लिए एकत्र की गई व्यक्तिगत जानकारी का उपयोग अन्य उद्देश्यों के लिए नहीं किया जाएगा।

चीन: Coronavirus की मार से बढ़ी महंगाई! 20 फीसदी महंगी हुई खाने-पीने की चीजें

निजता संरक्षण व बड़े डेटा के इस्तेमाल को लेकर जारी हालिया नोटिस के अनुसार, रोग के रोकथाम के लिए संयुक्त प्रयास के तहत कंपनियों व व्यक्तियों को किसी भी व्यक्ति के नाम, आयु, आईडी सूचना, फोन नंबर या घर के पते की जानकारी का खुलासा पूूर्व अनुमति के बगैर जारी करने पर रोक है।

नोटिस में कहा गया है कि रोकथाम व नियंत्रण के प्रयासों के तहत जुटाई गई निजी जानकारी को अलग रखा जाएगा।

अवैध रूप से जानकारी जुटाने वालों पर होगी कार्रवाई

नोटिस में आगे कहा गया है कि महामारी को रोकने के प्रयास के तहत जुटाई गई जरूरी जानकारी को नेशनल रेगुलेशन के तहत रखा जाएगा। सैद्धांतिक रूप से सूचना संग्रह लक्ष्य पुष्टि व संदिग्ध रोगियों के करीबी संपर्क तक सीमित है। संस्थान जो निजी जानकारी जुटा रहे हैं, उन्हें डाटा लीक व सूचना के चोरी से बचाने के लिए कड़ा प्रबंधन अपनाना चाहिए।

अधिकारियों ने कहा है कि जो भी संगठन या व्यक्ति अवैध रूप से जानकारी जुटा रहे हैं या निजी जानकारी का खुलासा कर रहे हैं, उनकी सूचना साइबरस्पेस अधिकारियों को देना चाहिए। ऐसे लोगों या संगठन के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

<a href="https://www.patrika.com/asia-news/coronavirus-beijing-calls-pm-modi-s-offer-of-help-is-symbol-of-india-china-friendship-5755724/ coronavirus s: बीजिंग ने पीएम मोदी के मदद की पेशकश को बताया भारत-चीन दोस्ती का प्रतीक, कहा- धन्यवाद

आपको बता दें कि चीन में इस जानलेवा कोरोना वायरस से अब तक 911 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 40 हजार से अधिक लोग संक्रमित हैं। इसके अलावा दुनिया के करीब 31 देशों में ये जानलेवा वायरस फैल चुका है।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here