Coronavirus Death Toll Reaches 1110 In China – कोरोनावायरसः चीन में मृतकों की संख्या पहुंची 1110, फिलीपींस और हांगकांग में भी एक-एक मौत

0
32


ख़बर सुनें

चीन में कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या 1110 पहुंच गई है। वहीं मंगलवार को  24 घंटे में 108 लोगों की मौत हुई थी जो कि किसी दिन में मरने वालों का यह अबतक का सबसे अधिक आंकड़ा था। चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि 42,638 मामलों में संक्रमण की पुष्टि हुई है।

चीन के बाहर करीब 30 स्थानों पर दो मौतों के साथ संक्रमण के 350 से ज्यादा मामले सामने आए हैं। एक मौत फिलीपींस और दूसरी हांगकांग में हुई। उधर, जर्मनी, ब्रिटेन, इटली और यूरोपीय देशों में फ्रांस, रूस, स्वीडन, बेल्जियम, फिनलैंड और स्पेन में भी वायरस के मामले सामने आए हैं। एजेंसी

15 फरवरी के बाद ही मिल सकती है राहत

सार्स संकट के समय महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले एपिडोमॉलिजस्ट झांग ननशांग ने आशंका व्यक्त की है कि यह विपदा मध्य फरवरी तक और बढ़ सकती है पर उसके बाद इसके थमने का संकेत मिल सकता है। हालांकि यह काम आसान नहीं है, क्योंकि करीब पूरे चीन में करीब 16 करोड़ लोग अपने घरों में वापस लौट चुके हैं। उधर, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की एक टीम चीन पहुंच चुकी है। वहीं, डब्ल्यूएचओ के प्रमुख ने आगाह किया है कि ऐसे थोड़े बहुत मामले बड़ी आग लगाने वाली चिंगारी बन सकते हैं। ऐसे में पूरे विश्व को सतर्कता बरतनी जरूरी है।  

उम्मीद की किरण…पीड़ित मां ने दिया स्वस्थ बच्चे को जन्म

चीन के झेजियांग में कोरोना से संक्रमित महिला ने एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया है। चीनी के सरकारी मीडिया ने इसे लेकर एक वीडियो क्लिप के साथ ट्वीट किया, शीर्षक दिया, लकी बेबी। सोशल मीडिया यूजर्स ने भी बच्चे को ‘भाग्यशाली’ बताया है। एक यूजर ने लिखा, वाह, भगवान का शुक्र है।

ब्रिटेन ने किया चूहों पर टीके का परीक्षण

 इंपीरियल कॉलेज लंदन के शोधकर्ताओं ने जीवाणु से तैयार टीके का परीक्षण चूहों पर किया है। अगले कुछ हफ्तों में चूहों पर मिले नतीजों के आधार पर तय कर पाएंगे कि दवा का कोरोनावायरस ग्रसित चूहों पर क्या असर हुआ है।  

भारतीय दूतावास ने मंगलवार को कहा कि जापानी जहाज ‘डायमंड प्रिंसेस’ पर सवार 138 भारतीयों के संपर्क में है। जहाज पर कुल 3,711 लोग सवार हैं, जिसमें 130 संक्रमित हैं।  एक अधिकारी ने बताया कि हालात पर निकटता से नजर रखी जा रही है। एक वीडियो के जरिए इस पर सवार भारतीयों ने मदद की अपील की थी।

चीनी की विकास दर में 1% की कमी का अंदेशा

चीनी सरकार के एक थिंकटैंक ने कहा है कि साल 2020  में पूरे वर्ष के लिए देश की विकास दर में एक प्रतिशत का नुकसान हो सकता है। जानकार मानते हैं कि चीन के पिछड़ने का असर पूरी दुनिया पर पड़ सकता है। वित्तीय क्षेत्र की दिग्गज कंपनी जेपी मार्गन ने अपने ग्राहकों को भेजे नोट में कहा है कि कोरोनावायरस ने चीनी अर्थव्यवस्था का सूरते हाल बदल कर रख दिया है।

घटती बिक्री से परेशान 300 से अधिक चीनी कंपनियों ने 8.2 अरब डॉलर की मांग की है ताकि वे अपने नुकसान की भरपाई कर सकें। इनमें मोबाइल फोन निर्माता कंपनी शिओमी कार्प भी शामिल है।

कंपनियों ने छंटनी का सिलसिला शुरू किया

उत्पादन गिरने और निर्यात में ठहराव आने से परेशान कंपनियों ने अब कर्मचारियों की बड़े पैमाने पर छंटनी शुरू कर दी है। चीनी कंपनी शिनचाओ ने कहा वह 500 कर्मचारियों को निकाल रही है। रेस्त्रां चेन झियेबी ने कहा है कि चिंता है कि करीब 20 हजार कर्मचारियों को वह तनख्वाह कैसे देगी।

चीन में कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या 1110 पहुंच गई है। वहीं मंगलवार को  24 घंटे में 108 लोगों की मौत हुई थी जो कि किसी दिन में मरने वालों का यह अबतक का सबसे अधिक आंकड़ा था। चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि 42,638 मामलों में संक्रमण की पुष्टि हुई है।

चीन के बाहर करीब 30 स्थानों पर दो मौतों के साथ संक्रमण के 350 से ज्यादा मामले सामने आए हैं। एक मौत फिलीपींस और दूसरी हांगकांग में हुई। उधर, जर्मनी, ब्रिटेन, इटली और यूरोपीय देशों में फ्रांस, रूस, स्वीडन, बेल्जियम, फिनलैंड और स्पेन में भी वायरस के मामले सामने आए हैं। एजेंसी

15 फरवरी के बाद ही मिल सकती है राहत

सार्स संकट के समय महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले एपिडोमॉलिजस्ट झांग ननशांग ने आशंका व्यक्त की है कि यह विपदा मध्य फरवरी तक और बढ़ सकती है पर उसके बाद इसके थमने का संकेत मिल सकता है। हालांकि यह काम आसान नहीं है, क्योंकि करीब पूरे चीन में करीब 16 करोड़ लोग अपने घरों में वापस लौट चुके हैं। उधर, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की एक टीम चीन पहुंच चुकी है। वहीं, डब्ल्यूएचओ के प्रमुख ने आगाह किया है कि ऐसे थोड़े बहुत मामले बड़ी आग लगाने वाली चिंगारी बन सकते हैं। ऐसे में पूरे विश्व को सतर्कता बरतनी जरूरी है।  

उम्मीद की किरण…पीड़ित मां ने दिया स्वस्थ बच्चे को जन्म

चीन के झेजियांग में कोरोना से संक्रमित महिला ने एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया है। चीनी के सरकारी मीडिया ने इसे लेकर एक वीडियो क्लिप के साथ ट्वीट किया, शीर्षक दिया, लकी बेबी। सोशल मीडिया यूजर्स ने भी बच्चे को ‘भाग्यशाली’ बताया है। एक यूजर ने लिखा, वाह, भगवान का शुक्र है।

ब्रिटेन ने किया चूहों पर टीके का परीक्षण

 इंपीरियल कॉलेज लंदन के शोधकर्ताओं ने जीवाणु से तैयार टीके का परीक्षण चूहों पर किया है। अगले कुछ हफ्तों में चूहों पर मिले नतीजों के आधार पर तय कर पाएंगे कि दवा का कोरोनावायरस ग्रसित चूहों पर क्या असर हुआ है।  


आगे पढ़ें

138 भारतीयों के संपर्क में है भारतीय दूतावास


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here