Coronavirus: Dont Trust These Myths With Corona Virus

0
13


चीन में घातक कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 490 हो गई और इसके 24,324 मामलों की पुष्टि हुई है। बताया गया कि मंगलवार को 3,887 नए मामलों की भी पुष्टि हुई है। वहीं कोरोना वायरस को लेकर कई तरह के मिथक सोशल मीडिया पर वायरल फैलाए जा रहे हैं। सभी में दावा हो रहा है कि ऐसा करने से कोरोना वायरस से बचा जा सकता है। तो आइए जानते हैं क्या है ये मिथक, जिन पर हमें भरोसा नहीं करना चाहिए:

कुछ लोगों का कहना है कि गाय के गोबर और गौमूत्र का इस्तेमाल करने से कोरोनावायरस से बचा जा सकता है। यह बिल्कुल गलत है WHO ने novel कोरोनावायरस के लिए इस तरह के किसी उपाय को इस वायरस के इलाज में शामिल नहीं किया है। इसलिए इस पर बिल्कुल भी भरोसा न करें कि गाय के गोबर और गौमूत्र से कोरोनावायरस से बचा जा सकता है। 

इसके अलावा यह भी कहा जा रहा है कि चाइनीज फूड खाने से भी कोरोना वायरस हो रहा है। हालांकि  WHO ने चाइनीज फूड को कोरोना वायरस  फैलाने का कारण नहीं माना है। इसलिए चाइनीज फूड खाने से कोरोना वायरस नहीं फैलेगा। 

कोरोना वायरस के डर से लोग चीन से कोई भी सामान मंगवाने से भी डर रहे हैं। खासकर ऑनलाइन कुछ मंगवाने पर लोगों का कहना है कि पैकेट को छूने से भी उन्हें कोरोना वायरस का संक्रमण हो जाएगा। हालांकि ऐसा नहीं है, कोरोना वायरस किसी भी वस्तु पर लंबे समय तक सर्वाइव नहीं कर सकता । 

सोशल मीडिया पर यह जानकारी भी तेजी से वायरल हो रही है कि ठंडे फूड और प्रीसर्व्ड फूड जैसे आईसक्रीम और ड्रिंक्स पीने से कोरोना वायरस फैल रहा है। मैसेज में यहां तक लिखा जा रहा है कि फ्रोजन चीजे जैसे आइसक्रीम, कुल्फी, कोल्ड ड्रिंक्स न लें। यही नहीं 48 घंटे पहले बना हुआ खाना न खाएं। हालांकि इस तरह के मैसेज को लेकर ने कोई एडवाइजरी जारी नहीं की है। 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here