Coronavirus: know symptoms and prevention measures of corona virus from experts watch video

0
22


चीन के वुहान शहर से शुरू हुए कोरोना वायरस का संक्रमण अब दुनिया भर के कई देशों में पांव पसार चुका है। चीन के बाद ईरान, हांगकांग, जापान, इटली समेत कई देशों के बाद अब इसने भारत में भी इसने दस्तक दे दी है। इस वायरस का किसी भी देश के पास कोई इलाज नहीं है। लेकिन हां कुछ सावधानी बरतकर आप इससे बच सकते हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, अब तक के शोध से पता चला है कि यह वायरस हवा से नहीं बल्कि सांस लेने/ सांस छोड़ने, खांसने और छींकने की वजह से फैल रहा है। इसलिए जिन्हें सर्दी-जुकाम हुआ हो उससे दूरी बनाकर रखें। Watch video

                                    coronavirus

कोरोना के लक्षण को लेकर यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल के सीनियर कंसल्टेंट डॉ के के पांडे का कहना है कि इस कोरोनावायरस (COVID 19 में बुख़ार होता है, सूखी खांसी होती है और फिर सांस लेने में परेशानी होने लगती है,  ये कोरोना वायरस COVID 19 के नाम से जाना जाता है इसमें खांसी, तेज बुखार, सांस फूलना जैसे लक्षण होते हैं। Watch video

खासकर ये दूसरे फ्लू से बिल्कुल अलग है। इससे संक्रमित देशों से जो लोग आए हैं उनमें इसका ज्यादा खतरा है, उन्हें नोडल सेंटर पर जाकर जांच करानी चाहिए। इसकी खास बतायह भी है कि 85 फीसदी लोगों में यह हल्की बीमारी के रुप में होती है जो अपने आप ठीक हो रही है, 15 को हॉस्पिटल की जाने की जरूरत होती है, सिर्फ 5 फीसदी लोगों में ही गंभीर कोरोना वायरस होता है। इसलिए घबराने की जरूरत नहीं है। 

Watch video

कोरोना वायरस को लेकर देश में तरह-तरह के भ्रम फैलाए जा रहे हैं, ऐसे में यह जानना बेहद जरूरी है कि अगर कोई इस बीमारी की चपेट में आ जाए या आने की आशंका हो तो क्या करना चाहिए।  इसको लेकर डॉ के के पांडे ने बताया कि कोरोना वायरल इंफेक्शन का कोई पुख्ता इलाज नहीं है। इसमें मरीज को सपोर्टिव इलाज दिया जाता है। लक्षण के आधार पर इलाज किया जाता है।  इसके लिए स्पेशल बचाव जरूर रखना चाहिए। खासकर मास्क को भी संक्रमण से बचाने के लिए जरूरी है, हाथ धोएं. हमारे देश के लिए अच्छी बात यह है कि चीन के बाद हमें इस बीमारी के बारे में काफी आइडिया हो गया और जिस टाइम ये वायरस हमारे देश में आया यहां समर की शुरुआत हो गई है।

गर्मी में ये वायरस नहीं फैलते हैं, इसको लेकर पैनिक न फैलाएं। उम्मीद की जा रही है वो अप्रैल में इससे काफी राहत मिलेगी। इस बीमारी से बचने के लिए बेसिक अवेयरनेस जरूरी है। अगर कोई आपका फैमिली मेंबर इन संक्रमित देशों की यात्रा से लौटकर आया है खास सावधानी की जरूरत है।

coronavirus

लोग गलत तरीके से मास्क पहनते हैं और बार-बार चेहरा छूकर संक्रमण का खतरा बढ़ा सकते हैं। इसको लेकर डॉ के के पांडे बताते हैं कि मास्क को आगे से बिल्कुल न छुएं, उसे उतारते समय हमेशा पीछे से उतारे और मास्क पहनने से पहले और बाद में हाथ जरूर धोएं।

 यहां हम भी आपको बता रहे हैं टिप्स, जिन्हें अपनाकर आप कोरोना वायरस से बच सकते हैं

1. हाथ धोएं: 
दिन भर में बीमारी फैलाने वाले जर्म्स जर्म्स आपके हाथों में लगें हैं उनसे बचने के लिए बार-बार हाथ धोएं। 

ग्लोबल एडवाइजरी: वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन का कहना है कि Covid-19 कोरोनावायरस से बचने के लिए हाथों की हाइजीन सबसे ज्यादा जरूरी है। 

CDS: अमेरिका के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन ने साबुन और पानी से हाथों को धोने को सबसे अच्छा बचाव का तरीका बताया है। 

साबुन, पानी या सैनिटाइजर कौन है सबसे अच्छा
साबुन और पानी से हाथ धोने का अच्छा ऑप्शन बताया गया है, क्योंकि सैनिटाइजर कुछ जर्म्स को मारने में नाकाम साबित हो चुका है।
ग्रीसी और धूल भरे हाथों के लिए भी सैनिटाइजर अच्छा नहीं है। 

एल्कोहल एक विकल्प
अगर साबुन ना हो तो आर अल्कोहल वाले सैनिटाइजर का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

ये है हाथ धोने का सही तरीका, 5 स्टेप में जानें
1. सबसे पहले अपने हाथों को पानी की टैप के नीचे गीला करें और पानी की टैप बंद कर दें।
2. इसके बाद हाथों में साबुन अच्छे से हाथों के पीछे, उंगलियों के बीच में और नाखूनों के आसप-पास अच्छे से लगाएं।
3. 20 सेकेंड के लिए हाथों को स्क्रब करें। 
4. साफ पानी से अपने हाथ धोएं
5. सूखे साफ कपड़े से अपने हाथों को पोछें। 

 

 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here