Coronavirus Medicine Being Tested By Researchers – कोरोना वायरस की मिल गई दवा, बस इस बात की है देरी

0
15


बीजिंग। चीन से उपजे कोरोना वायरस आतंक ( coronavirus in China ) अब दुनियाभर में फैल चुका है। मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। इसके लिए अब तक कोई वैक्सीन या दवा ( Coronavirus prevention ) न होने के कारण लोगों में इसको लेकर दहशत का माहौल है। हालांकि, अब इसकी दवा को लेकर एक अहम मिल रही है।

नैदानिक परीक्षणों में संबंधित डेटा किया जा रहा इकट्ठा

हाल ही में चीनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग की प्रवक्ता सोंग शूली ने नए कोरोना वायरस निमोनिया की दवा के रिसर्च का परिचय दिया। उन्होंने कहा कि कई चिकित्सा संस्थान नई दवा ‘रेमदेसिविर’ का नैदानिक परीक्षण कर रहे हैं। आयोग की प्रवक्ता के अनुसार, ‘वर्तमान में एक तरीका तो कालेट्रा और चीनी हर्बल दवा का एक साथ प्रयोग करना है। इससे जुड़े कुछ नैदानिक परीक्षणों में संबंधित डेटा इकट्ठा किया जा रहा है। इनके अलावा एक नई दवा रेमदेसिविर की कई चिकित्सा संस्थान नैदानिक परीक्षण कर रहे हैं ताकि इस की सुरक्षा और कारगरता पर रिसर्च की जा सके।’

क्या किसी फेल हुए लैब टेस्ट से फैला है कोरोना वायरस का संक्रमण? चीनी रिसर्चर ने दिया जवाब

आम रोगी के उपचार और गंभीर रोगी के उपचार के प्रति किए जा रहे हैं प्रयोग

सोंग शूली ने कहा कि महामारी के बढ़ने के साथ चीनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग और चीनी पारंपरिक चिकित्सा और दवा ब्यूरो भी निरंतर रूप से महामारी की रोकथाम में प्राप्त अनुभव इकट्ठा करके उपचार योजना प्रकाशित करता रहा। अब तक इस योजना का चौथा संस्करण जारी हुआ है जिसमें आम रोगी के उपचार और गंभीर रोगी के उपचार के प्रति प्रयोग की गई दवाओं का ठोस परिचय दिया गया। सभी लोग स्वास्थ्य आयोग की सरकारी वेबसाइट पर संबंधित सूचनाएं पढ़ सकते हैं।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here