Coronavirus not manmade still studying lab theory says US intelligence

0
27


कोरोना वायरस संक्रमण के लेकर अब तक चीन पर आक्रमक तेवर बनाए और उससे नुकसान का मुआवजा वसूलने के बारे में सोच रहे अमेरिका की खुफिया एजेंसियों ने गुरुवार को कहा कि कोरोना वायरस ”मानव निर्मित या आनुवांशिक रूप से संशोधित” नहीं है।  उन्होंने कहा कि वे यह पता लगाने के लिए काम करेंगे कि कोविड-19 संक्रमण किसी संक्रमित जानवर के संपर्क में आने से फैला या चीन की किसी प्रयोगशाला में दुर्घटना के कारण यह शुरू हुआ। डायरेक्टर ऑफ नेशनल इंटेलिजेंस के ऑफिस ने एक बयान में कहा, ”खुफिया समुदाय भी इस व्यापक वैज्ञानिक सहमति से इत्तेफाक रखता है कि कोविड-19 वायरस मानव निर्मित या आनुवांशिक रूप से रूपांतरित नहीं है।”

डायरेक्टर ऑफ नेशनल इंटेलिजेंस  की तरफ से यह बयान ऐसे वक्त पर आया है जब राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके सहयोगी इस बात को साबित करने में नाकाम रहे कि इस खतरनाक वायरस की उत्पत्ति कैसे चीन के वुहान शहर में हुई, जिसके चलते दुनियाभर में 2,22,00 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। हाल के दिनों में ट्रंप प्रशासन ने चीन के ऊपर अपने हमले काफी तेज किए और उसके ऊपर इस बात को लेकर आरोप लगाते रहे कि चीन ने इस खतरनाक महामारी को रोकने नाकाम रहा या फिर दुनिया को इसके बारे में समय रहते हुए नहीं बताया।

बयान में कहा गया, इंटेलिजेंस कम्युनिटी (आईसी) भी वैज्ञानिकों की व्यापक सहमति के साथ बिन्दु पर पहुंची है कि कोविड-19 मानव निर्मित नहीं है और न ही यह अनुवांशिक तौर पर संशोधित है। आईसी की तरफ से इस बात की जांच की जाती रहेगी कि यह संक्रमण किसी संक्रमित जानवर के संपर्क में आने से हुआ है या फिर वुहान के लेबोरेट्री से दुर्घटनावश फैला है।

रूस के प्रधानमंत्री कोरोना वायरस से संक्रमित 

रूस के प्रधानमंत्री मिखाइल मिशुस्तीन ने कहा है कि वह जांच में कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं और राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से कहा है कि वह क्वारंटाइन में रहेंगे। प्रथम उप-प्रधानमंत्री आंद्रेई बेलौसोव अस्थायी रूप से मिशुस्तीन का कार्यभार संभालेंगे, हालांकि प्रधानमंत्री ने गुरुवार को कहा कि वह प्रमुख मुद्दों को लेकर संपर्क में रहेंगे।

ये भी पढ़ें: ट्रंप ने बताई भारत दौरे की अहमियत, जानें PM मोदी संग भाषण पर क्या बोले

जनवरी में 54 वर्षीय मिशुस्तीन को प्रधानमंत्री नामित किया गया था। एक वीडियो कॉल के दौरान, पुतिन ने आशा व्यक्त की कि कोरोना वायरस महामारी से प्रभावित रूसी अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए मिशुस्तीन नीतियां बनाने को लेकर होने वाली बैठकों में भाग लेते रहेंगे। रूस में, प्रधानमंत्री अर्थव्यवस्था के मामले को देखते हैं और राष्ट्रपति को रिपोर्ट करते हैं। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि पुतिन आखिरी बार प्रधानमंत्री से व्यक्तिगत रूप से कब मिले थे। महामारी के फैलने के बाद से पुतिन अधिकारियों के साथ ज्या्दातर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग सेही संपर्क करते हैं।

अगले सप्ताह से देश में विमान यात्रा बहाल करेंगे : ट्रंप

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को कहा कि वह अगले हफ्ते से देशभर में अपनी विमान यात्राएं शुरू करेंगे और वह जल्द ही अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के लिए”आक्रामक प्रचार अभियान रैलियां आयोजित करने पर विचार कर रहे हैं। ट्रंप ने व्हाइट हाउस में पत्रकारों को बताया कि वह ”अगले हफ्ते एरिजोना जा रहे हैं। कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के कारण अमेरिका बंद होने के बाद से यह उनका पहला दौरा है।

उन्होंने कहा कि नवंबर के राष्ट्रपति चुनावों में महत्वपूर्ण राज्यों में से एक ओहायो का ”जल्द ही दौरा करेंगे। ट्रंप ने बताया कि एरिजोना का दौरा अर्थव्यवस्था की बहाली के प्रयास पर केंद्रित है और यह कोई प्रचार रैली नहीं है क्योंकि स्टेडियमों में भीड़भाड़ वाले कार्यक्रमों के लिए ”यह बहुत जल्दबाजी है। हालांकि, डेमोक्रेटिक पार्टी के प्रतिद्वंद्वी जो बाइडेन के खिलाफ कड़े मुकाबले का सामना कर रहे रिपब्लिकन ने स्पष्ट किया कि जितना जल्दी हो सके वह पहले की तरह रैलियां करना चाहते हैं।

उन्होंने कहा, ”उम्मीद है कि निकट भविष्य में हम कुछ बड़ी रैलियां करेंगे और लोग एक-दूसरे के बगल में बैठेंगे। उन्होंने कहा, ”मैं उम्मीद करता हूं कि हम पुराने तरीके से कुछ 25,000 लोगों के साथ रैलियां कर सकें। विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि कोरोना वायरस का टीका बनने तक व्यापक पैमाने पर सामाजिक दूरी बनाए रखनी होगी। इसके बावजूद ट्रंप ने अनुमान जताया कि यह खतरा अपने आप खत्म हो जाएगा और अमेरिका किसी भी खतरे से निपटने के लिए सक्षम है। यह पूछे जाने पर कि टीके के बिना विषाणु को कैसे खत्म किया जाएगा, इस पर ट्रंप ने जवाब दिया, ”यह जा रहा है। यह खत्म होने जा रहा है।

ये भी पढ़ें: यूएस नेवी डिस्ट्रॉयर पर तैनात लगभग एक चौथाई नौसैनिक कोरोना पॉजिटिव


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here