Coronavirus World Updates Confirmed Cases More Than 23 Lakhs And Death Toll Crosses 1.5 Lakh – Covid19: दुनिया में मृतकों की संख्या 1.5 लाख पार, 23 लाख संक्रमित, अमेरिका में 38 हजार से ज्यादा मौत

0
44


ख़बर सुनें

चीन के बाद अकेले अमेरिका-यूरोप में कोविड-19 ने 59 फीसदी से ज्यादा लोगों पर असर छोड़ रखा है। इनमें अमेरिका, इटली, स्पेन, फ्रांस और ब्रिटेन जैसे देश शामिल हैं। जॉन्स हॉपकिंस विवि ने चौंकाने वाले आंकड़े देते हुए बताया कि शनिवार दोपहर तक दुनिया में इस वैश्विक महामारी से कुल मरने वालों की संख्या 1.5 लाख को पार कर गई जबकि संक्रमितों की संख्या 22.6 लाख को पार कर गई।

वैश्विक महाशक्ति अमेरिका के हालात इन दिनों सबसे खराब हैं। यहां मरने वालों का आंकड़ा 37 हजार को पार कर 37,079 हो गया है जबकि कुल संक्रमण के मामले 7,10,272 हो गए हैं। हालांकि इतने बुरे हालातों के बावजूद राष्ट्रपति ट्रंप ने नागरिकों को घरों से बाहर न निकलने के दिशा-निर्देशों के खिलाफ किए जा रहे प्रदर्शनों को अपना समर्थन दिया है। वह चाहते हैं कि अमेरिका के विभिन्न राज्यों के गवर्नर जल्द ही लॉकडाउन जैसे हालात खत्म करें ताकि बाजारों को खोला जा सके। उधर, स्वास्थ्य सेवाओं के रूप में दुनिया का दूसरा स्थान रखने वाले इटली में अब तक 22,745 लोग मारे जा चुके हैं जबकि कुल प्रभावितों की संख्या 1,72,434 है। इसी तरह, स्पेन में 1,91,726 लोग संक्रमित हैं और 20 हजार से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं। फ्रांस और ब्रिटेन में 18,681 और 14,576 लोग अब तक अपनी जानें गंवा चुके हैं।

रूस : यूएन में कोरोना पर प्रस्ताव, संरक्षणवाद हटाएं

कोविड-19 पर एक प्रस्ताव के जरिये रूस संयुक्त राष्ट्र महासभा की मंजूरी लेने की दोबारा कोशिश में है। इस बार उसने यूएनएससी की मंजूरी के बिना लगाए गए एकतरफा प्रतिबंधों को हटाने की मांग छोड़ दी है, लेकिन संरक्षणवादी रवैये के खात्मे की मांग पर अड़ा हुआ है। 193 सदस्यीय विश्व निकाय को बुधवार दोपहर तक रूस के संशोधित मसौदा प्रस्ताव पर विचार करना है। इसमें कोरोना वायरस महामारी से पैदा चुनौतियों का सामना करने के लिए एकजुटता की अपील की गई है। इससे पहले 2 अप्रैल को रूस इसे ईयू, ब्रिटेन, अमेरिका व यूक्रेन की आपत्ति के चलते मंजूर नहीं करा पाया था।

केन्या : कोरोना मिटाने को नैरोबी के गवर्नर बांट रहे शराब

फिलहाल कोविड-10 संक्रमण का इलाज न ढूंढ पाने के कारण जहां डॉक्टर 100 साल पुरानी बीसीजी और प्लाज्मा थैरेपी को अपनाने पर मजबूर हैं वहीं अफ्रीकी देश केन्या के गवर्नर ने शराब से कोरोना को मात देने का दावा किया है। वह अपने राज्य में गरीबों को फूड पैकेट के साथ शराब की बोतलें भी बांट रहे हैं। हालांकि, डब्ल्यूएचओ ने शराब से कोरोना को खत्म करने के दावे को खारिज कर दिया है।

ईरान : कुछ व्यवसायों को खोलने की अनुमति मिली

ईरान ने कुछ व्यवसायों को फिर से खोलने की अनुमति दे दी है। देश में कोरोना प्रकोप के बावजूद सरकारी दफ्तर और बड़े व्यवसाय सीमित संख्या में खोले गए हैं। जबकि जिम, रेस्त्रां, शॉपिंग मॉल और ग्रैंड बाजार फिलहाल बंद रहेंगे। मस्जिदें, धार्मिक संस्थान, स्कूल और विवि को खोलने की भी अनुमति भी नहीं है। देश में कोविड-19 से 5,000 मौते हों चुकी हैं जबकि अब भी 80,000 लोग इससे संक्रमित हैं।

चीन : वुहान से बाहर जाने पर परीक्षण अनिवार्य

चीन ने शनिवार को वुहान से बाहर जाकर नौकरी करने वालों के लिए कोरोना वायरस टेस्ट अनिवार्य होने का आदेश दिया है। ये आदेश 70 दिनों का लॉकडाउन हटाने के बाद आए हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने एक आदेश में कहा कि वुहान शहर छोड़ने से पहले एक न्यूक्लिक एसिड परीक्षण के लिए भुगतान सरकार करेगी। वुहान छोड़ने वालों को स्वैच्छिक रूप से जांच के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।

उ. कोरिया : विदेशी क्वारंटीन नागरिकों को रिहा किया

उत्तर कोरिया ने शनिवार को कहा है कि उसने कोरोना वायरस के क्वारंटीन में रह रहे सभी विदेशी नागरिकों को रिहा कर दिया है। हालांकि, रिपोर्ट में यह नहीं बताया गया है कि कितने लोगों को कितने दिनों के लिए क्वारंटीन में रखा गया। पिछली मीडिया रिपोर्ट्स के आंकड़ों के मुताबिक, उत्तर कोरिया ने पिछले सप्ताह में लगभग 10 हजार लोगों को रिहा किया होगा। 

सार

  • अमेरिका में मृतकों का आंकड़ा 37,000 से भी ज्यादा हुआ,
  • दुनिया में कुल संक्रमितों की संख्या हुई 23,00,000 से अधिक
  • 1,58,000 से अधिक लोग अब तक विश्व में कोविड-19 महामारी के चलते मारे गए

विस्तार

चीन के बाद अकेले अमेरिका-यूरोप में कोविड-19 ने 59 फीसदी से ज्यादा लोगों पर असर छोड़ रखा है। इनमें अमेरिका, इटली, स्पेन, फ्रांस और ब्रिटेन जैसे देश शामिल हैं। जॉन्स हॉपकिंस विवि ने चौंकाने वाले आंकड़े देते हुए बताया कि शनिवार दोपहर तक दुनिया में इस वैश्विक महामारी से कुल मरने वालों की संख्या 1.5 लाख को पार कर गई जबकि संक्रमितों की संख्या 22.6 लाख को पार कर गई।

वैश्विक महाशक्ति अमेरिका के हालात इन दिनों सबसे खराब हैं। यहां मरने वालों का आंकड़ा 37 हजार को पार कर 37,079 हो गया है जबकि कुल संक्रमण के मामले 7,10,272 हो गए हैं। हालांकि इतने बुरे हालातों के बावजूद राष्ट्रपति ट्रंप ने नागरिकों को घरों से बाहर न निकलने के दिशा-निर्देशों के खिलाफ किए जा रहे प्रदर्शनों को अपना समर्थन दिया है। वह चाहते हैं कि अमेरिका के विभिन्न राज्यों के गवर्नर जल्द ही लॉकडाउन जैसे हालात खत्म करें ताकि बाजारों को खोला जा सके। उधर, स्वास्थ्य सेवाओं के रूप में दुनिया का दूसरा स्थान रखने वाले इटली में अब तक 22,745 लोग मारे जा चुके हैं जबकि कुल प्रभावितों की संख्या 1,72,434 है। इसी तरह, स्पेन में 1,91,726 लोग संक्रमित हैं और 20 हजार से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं। फ्रांस और ब्रिटेन में 18,681 और 14,576 लोग अब तक अपनी जानें गंवा चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here