Delhi: Police Shocking Reveal About Bhajanpura Murder Case – दिल्ली: भजनपुरा हत्या केस में चौंकाने वाला खुलासा, रिश्तेदार ही निकला हत्यारा

0
20


  • दिल्ली ( Delhi ): भजनपुरा मर्डर केस ( Bhajanpura Murder Case ) का आरोपी गिरफ्तार
  • दिल्ली पुलिस ( Delhi Police ) ने किया बेहद चौंकाने वाला खुलासा

नई दिल्ली। देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली ( Delhi ) स्थित भजनपुरा ( Bhajanpura ) में एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या ( Murder ) में बेहद चौंकाने वाला खुलासा है। दिल्ली पुलिस ( Delhi Police ) के मुताबिक, हत्या करने वाला कोई और नहीं बल्कि रिश्तेदार ही है। बताया जा रहा है कि यह हत्या महज 30 हजार रुपए के लिए हुई है।

पुलिस ने केस का खुलासा करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का कहना है कि पांच लोगों की हत्या पीड़ित की बुआ के 28 साल के लड़के ने किया है। आरोपी का नाम प्रभु चौधरी है। पुलिस का कहना है कि महज तीस हजार रुपए के लेन-देन की वजह से आरोपी प्रभु ने अपने फुफेरे भाई के पूरे परिवार को मौत के घाट उतार दिया। फिलहाल, पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है। पुलिस का कहना है कि 12 फरवरी की सुबह दिल्ली पुलिस को भजनपुरा के सी ब्लॉक से फोन आया कि एक घर से बेहद तेज बदबू आ रही है और घर के लोग एक हफ्ते से ज्यादा वक्त से नजर नहीं आ रहे हैं। सूचना के आधार पर पहुंची पुलिस ने घर के अंदर से एक ही परिवार के पांच लोगों की लाश बरामद की। पहली नजर में इस केस को सुसाइड माना जा रहा था। लेकिन, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पता चला कि किसी धारदार हथियार से पांच लोगों की बेरहमी से हत्या कर दी गई है।

डीसीपी के नेतृत्व में एक जांच टीम बनाई गई और छानबीन शुरू की गई। पुलिस ने बच्चों के स्कूल में फोन किया और बताया लगाया कि आखिरी बार वे स्कूल कब आए थे। मृतक शंभू के मोबाइल की डिटेल निकाली तो पता चला कि 3 फरवरी के बाद से उनका फोन बंद है। पुलिस ने शंभू के मोबाइल की जांच की तो उसमें 3 फरवरी के दिन फुफेरे भाई प्रभु की कॉल निकली। पुलिस को प्रभु सीसीटीवी में भी नजर आया था, जिसके बाद पुलिस ने प्रभु को हिरासत में लेकर पूछताछ की और सारी सच्चाई सामने आ गई। प्रभु ने बताया कि उसने बारी-बारी से सबकी हत्या की। प्रभु ने बताया कि साढ़े तीन बजे वह घर में घुसा और शाम साढ़े 7 बजे तक चार कत्ल कर द‍िए। सबसे आखिरी में उसने शंभू की हत्या की। फिलहाल, पुलिस सारी गुत्थी सुलझाने में जुटी है।












LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here