Donald Trump Stops Funding From World Health Organization – कोरोना संकट: हताश डोनाल्ड ट्रंप ने की बड़ी कार्रवाई, WHO की फंडिंग पर लगाई रोक

0
47


Highlights

  • ट्रंप ने लगाया आरोप, कोविड 19 की गंभीरता को दुनिया से छिपाया है।
  • बीते साल विश्व स्वास्थ्य संगठन को 400 मिलियन डॉलर दिए थे।
  • अमरीका में मौत का आंकड़ा 25 हजार के पार पहुंचा।

वॉशिंगटन। कोरोना वायरस (Coronavirus) ने अमरीका (America) जैसे शक्तिशाली देश की हालत पस्त कर दी है। अमरीका में लगातार संक्रमण के मरीज बढ़ते जा रहे हैं। वहीं मरने वालों की संख्या रोजना दो हजार के पार का रही है। ऐसे में नाराज होकर अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) पर बड़ी कार्रवाई की है। उन्होंने संगठन पर चीन का पक्ष लेने का आरोप लगाते हुए उसे दिए जाने वाले फंड को रोकने का ऐलान कर दिया है। अमरीका ने आरोप लगाया है कि WHO ने चीन में फैले कोविड 19 की गंभीरता को दुनिया से छिपाया है, जिसके कारण ये महामारी आज पूरी दुनिया में फैल चुकी है।

अमरीकी राष्ट्रपति के मुताबिक WHO ने इस गंभीर महामारी को लेकर दुनिया से सही जानकारी को छिपाया है। उन्होंने कहा कि यूएन की इस संस्था को सबसे ज्यादा फंड देने वाला अमरीका अब इस पर विचार करेगा कि पैसे का किस तरह से उपयोग किया जाए। अमरीका ने बीते साल विश्व स्वास्थ्य संगठन को 400 मिलियन डॉलर 2800 करोड़ रुपये दिए थे। गौरतलब है कि WHO के महानिदेशक टेड्रोस अदहानोम गेब्रेयेसस ने कुछ दिन पहले ही अपने बयान में कहा था कि एक पर आरोप लगाने से इस महामारी को रोका नहीं जा सकेगा। इससे सिर्फ मौत के आंकड़े ही बढ़ेंगे।

ट्रंप ने कहा कि WHO कोरोना वायरस की गंभीरता को समझ ही नहीं सका। चीन में जिस समय यह वायरस तेजी से फैल रहा था, उस समय WHO ने अपना काम ठीक तरह से नहीं किया। ट्रंप ने यहां तक आरोप लगाया कि चीन में फैले इस वायरस को यूएन की इस संस्था ने दुनिया से छिपाने का काम किया। इससे पहले भी ट्रंप ने WHO पर चीन का पक्ष लेने का आरोप लगाया था।

अमरीका में अब तक छह लाख लोग संक्रमित

कोरोना वायरस की वजह से अमरीका में गंभीर परिणाम देखने को मिल रहे हैं। यहां पर मौत आंकड़ा 25 हजार को पार कर गया है। यहां पर दुनिया में सबसे ज्यादा लोग संक्रमित बताए जा रहे हैं। अमरीका अब तक 6 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं। अमरीका में कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या को लेकर डोनाल्ड ट्रंप की जमकर आलोचना हो रही है। जानकारों का कहना है कि अमरीकी राष्ट्रपति ने समय रहते कड़े फैसले नहीं किए। समय पर लॉकडाउन न करने की वजह से महामारी ने विकराल रूप ले लिया।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here