Find Out How Copper And Steel Utensils Affects Health – यहां जानें तांबे और स्टील के बर्तन से क्या प्रभाव पड़ता

0
5


हैल्दी डाइट के लिए केवल अच्छा अनाज, ताजे फल-सब्जियों की ही जरूरत नहीं बल्कि उसे किस बर्तन में पकाया या परोसा जा रहा है।

हैल्दी डाइट के लिए केवल अच्छा अनाज, ताजे फल-सब्जियों की ही जरूरत नहीं बल्कि उसे किस बर्तन में पकाया या परोसा जा रहा है। यह भी जरूरी है। जानते हैं किस बर्तन के उपयोग से क्या फायदे और नुकसान होते हैं।
तांबा- इसके बर्तन में रात में रखा पानी सुबह खाली पेट पीने के कई फायदे हैं। यह पाचक की तरह काम करता है। लेकिन सर्दी के दिनों में ऐसा न करें। सर्दी-जुकाम हो सकता। इसमें गर्म चीजें न रखें।
फायदा : नेत्र रोगों में फायदेमंद, स्मरण शक्ति बढ़ती है। पेट साफ रहने के साथ लिवर संबंधी परेशानी से बचाव होता है। खून साफ होता है।
नुकसान : इसमें दूध नहीं पीना चाहिए। 12 घंटे से ज्यादा समय तक पानी न रखें, इससे अच्छे बैक्टीरिया भी मरते हैं। सफाई का ध्यान रखें।
स्टील-
यह एक मिश्रित धातु है जो लोहे में कार्बन, क्रोमियम और निकिल मिलाकर बनाया जाता है। सस्ते बर्तनों में इसे सबसे अच्छा माना जाता है।
फायदा : यह कम आंच पर जल्दी गर्म हो जाता है जिससे खाने में पौष्टिकता का नुकसान कम होता है। रिएक्शन भी बहुत कम होता है।
नुकसान : ज्यादा घिसने के बाद क्रोमियम और निकिल दिखता है जो पेट संबंधी बीमारियां कर सकता है। अंदर की सतह घिसने पर बदल दें।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here