Follow These Tips To Reduce Exam Stress – Reduce Exam Stress: एग्जाम स्ट्रेस दूर करने के लिए अपनाएं ये टिप्स

0
8


Reduce Exam Stress: परीक्षा शुरू होते ही अक्सर बच्चे घर से बाहर निकलना बंद कर देते हैं। तनाव बढ़ने से मायूस दिखने के अलावा उनकी शारीरिक सक्रियता भी कम हो जाती है। कई मनोरोग विशेषज्ञों की मानें तो दिमाग को 45 मिनट तक एकाग्र रखा जा सकता है…

Reduce Exam Stress In Hindi: परीक्षा शुरू होते ही अक्सर बच्चे घर से बाहर निकलना बंद कर देते हैं। तनाव बढ़ने से मायूस दिखने के अलावा उनकी शारीरिक सक्रियता भी कम हो जाती है। कई मनोरोग विशेषज्ञों की मानें तो दिमाग को 45 मिनट तक एकाग्र रखा जा सकता है। इसके बाद 5 मिनट का ब्रेक लेना पर्याप्त होता है। इस दौरान परीक्षा व एक दिन पहले खानपान से लेकर कुछ अहम बातों का खयाल रखना जरूरी है। जानते हैं इस बारे में-

रातभर जागकर पढ़ना
हर बच्चे की अपनी-अपनी बॉडी क्लॉक होती है। ऐसे में यदि बच्चे को लगे कि वह रात के समय ही ढंग से पढ़ पाएगा, तो उसे रोके नहीं। लेकिन एग्जाम हॉल में फ्रेश माइंड से जाने के लिए जरूरी है कि नींद पूरी हो। दिमागी रूप से थके होने से बच्चा परीक्षा में ध्यान केंद्रित नहीं कर पाएगा। इसलिए रात 11 बजे तक उसे सुला दें। परीक्षा के तनाव के कारण बेचैनी वाली नींद आ रही है तो एक कप गुनगुना दूध पी सकते हैं। एनर्जी बढ़ेगी।

पहले तनाव न लें
परीक्षा से एक दिन पहले ज्यादा तनाव न लें। पूरी किताब पढ़ने की बजाय नोट्स आदि पर नजर डालें। यह दिन सिर्फ रिवीजन वाला रखते हुए स्टेशनरी आदि का ध्यान रखें।

खास बिंदुओं का चार्ट
बिस्तर पर लेटकर पढ़ाई कभी न करें। कोशिश करें कि टेबल-कुर्सी पर कमर सीधी कर बैठकर पढ़ें। नोट्स को सिर्फ याद करने के बजाय बोलकर या लिखकर प्रश्नों के हल याद करें। इसका फायदा यह है कि लिखने से नोट्स याद रहेंगे और आलस भी नहीं आएगा। साथ ही बुक में मुख्य बिंदुओं को हाइलाइट करें और जवाबों को चार्ट या किसी डायग्राम का रूप देकर उसे याद करें। क्योंकि हमारा दिमाग शब्दों की तुलना में चित्रों को लंबे समय तक याद रखने की क्षमता रखता है। टाइम मैनेजमेंट को ध्यान में रखते हुए पढ़ाई करें।

ग्रुप स्टडी से बचें
यदि आप परीक्षा की तैयारी ग्रुप में करना चाहते हैं तो परीक्षा से एक हफ्ते पहले ही कर लें। एग्जाम से सात दिन पहले खुद की तैयारी पर ही ध्यान केंद्रित करें। हालांकि ग्रुप स्टडी में टॉपिक्स आसानी से क्लियर हो जाते हैं लेकिन बातचीत का स्तर न चाहते हुए भी बढ़ जाता है।

पढ़ाई में बे्रक लें
एग्जाम के दौरान भी रुटीन बाकी दिनों की तरह रखें। बस पढ़ाई का समय दोगुना कर दें। लंबे समय तक बैठे रहने से शरीर में ऊर्जा कम होने लगता है। ऐसे में थोड़ी देर घर के अंदर की बजाय बाहर करीब आधा घंटा फिजिकल एक्टिविटी करें। इससे एड्रेनलिन हार्मोन स्त्रावित होता है जिससे ऊर्जा का स्तर बढ़ता है। पढ़ाई के बीच 5 मिनट का ब्रेक लेकर आंखों को बंद कर रिलैक्स करें या पानी पीएं।

डाइट स्किप न करें
दिमाग को दुरुस्त रखने के लिए एग्जाम के दिनों में 10-12 (बादाम, अखरोट, चिलगोजा, अंजीर) ड्राय फ्रूट्स खाएं। पढ़ाई के लिए बैठने से पहले हल्का खाना खाएं क्योंकि बैठने के दौरान पेट पर दबाव पड़ने से भोजन को पचने में दिक्कत होने के साथ आलस व थकान की स्थिति बनती है। एग्जाम वाले दिन नाश्ता स्किप न करें।

दलिया, ओट्स, कॉर्नफ्लैक्स या स्प्राउट्स खाएं। एकाग्रक्षमता व दिमाग को एक्टिव रखने के लिए फल व सब्जियां या इनके जूस की मात्रा ज्यादा लें। कैफीनयुक्त चाय या कॉफी न पीएं।







Show More




















LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here