Google Meet Video Meeting Service Free To All From Upcoming Weeks To Takes On Zoom – Google Meet से सभी लोग फ्री में कर सकेंगे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, जूम से होगी टक्कर

0
31


टेक डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Wed, 29 Apr 2020 05:39 PM IST

ख़बर सुनें

गूगल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप जूम को तगड़ा झटका देते हुए गूगल मीट (Google Meet) को सभी के लिए फ्री कर दिया है। गूगल मीट एप से अब कोई भी फ्री में वीडियो कॉलिंग या कॉन्फ्रेंस कर सकता है। बता दें कि इससे पहले गूगल मीट सिर्फ जीसूट (G Suite) यूजर्स के लिए ही था। जी सूट के अध्यक्ष जेवियर सोलारो ने कहा कि हमने गूगल मीट को फ्री करने का एलान किया है और कोरोना महामारी के दौरान दुनियाभर के यूजर्स को अपनों के करीब रखने के लिए हमनें यह फैसला लिया है।

लॉकडाउन में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में काफी इजाफा देखने को मिला है। दुनियाभर के कॉलेज/स्कूल की क्लासेज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ही चल रही हैं। इसके अलावा अधिकतर लोग घर से दूर हैं। ऐसे में लॉकडाउन के दौरान वीडियो कॉलिंग ही उनका सहारा है।

कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन में Zoom वीडियो कॉलिंग एप को सबसे ज्यादा फायदा हुआ है। कंपनी को भी इस बात का अंदाजा नहीं था कि जूम को लोग इतनी संख्या में इस्तेमाल करेंगे, हालांकि पांच लाख अकाउंट हैक होने के बाद जूम की प्राइवेसी को लेकर सवाल उठे हैं। भारत सरकार ने भी जूम एप के इस्तेमाल को लेकर चेतावनी जारी की है।

गूगल ने अपने ब्लॉग में कहा है कि हम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग को सुरक्षित और भरोसेमंद बनाने के लिए सालों से मेहनत कर रहे हैं। गूगल मीट को दुनिया के तमाम स्कूल, कॉलेज, सरकारों और कंपनियों ने सराहा है।

गूगल ने कहा है कि अगले सप्ताह तक सभी के लिए गूगल मीट का फ्री एक्सेस जारी कर दिया जाएगा। गूगल मीट के फ्री होने के बाद गूगल का सीधा मुकाबला फेसबुक के मैसेंजर रूम और जूम एप से होगा। गूगल मीट में भी एक बार में 250 लोग वीडियो मीटिंग कर सकते हैं।

गूगल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप जूम को तगड़ा झटका देते हुए गूगल मीट (Google Meet) को सभी के लिए फ्री कर दिया है। गूगल मीट एप से अब कोई भी फ्री में वीडियो कॉलिंग या कॉन्फ्रेंस कर सकता है। बता दें कि इससे पहले गूगल मीट सिर्फ जीसूट (G Suite) यूजर्स के लिए ही था। जी सूट के अध्यक्ष जेवियर सोलारो ने कहा कि हमने गूगल मीट को फ्री करने का एलान किया है और कोरोना महामारी के दौरान दुनियाभर के यूजर्स को अपनों के करीब रखने के लिए हमनें यह फैसला लिया है।

लॉकडाउन में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में काफी इजाफा देखने को मिला है। दुनियाभर के कॉलेज/स्कूल की क्लासेज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ही चल रही हैं। इसके अलावा अधिकतर लोग घर से दूर हैं। ऐसे में लॉकडाउन के दौरान वीडियो कॉलिंग ही उनका सहारा है।
कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन में Zoom वीडियो कॉलिंग एप को सबसे ज्यादा फायदा हुआ है। कंपनी को भी इस बात का अंदाजा नहीं था कि जूम को लोग इतनी संख्या में इस्तेमाल करेंगे, हालांकि पांच लाख अकाउंट हैक होने के बाद जूम की प्राइवेसी को लेकर सवाल उठे हैं। भारत सरकार ने भी जूम एप के इस्तेमाल को लेकर चेतावनी जारी की है।

गूगल ने अपने ब्लॉग में कहा है कि हम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग को सुरक्षित और भरोसेमंद बनाने के लिए सालों से मेहनत कर रहे हैं। गूगल मीट को दुनिया के तमाम स्कूल, कॉलेज, सरकारों और कंपनियों ने सराहा है।

गूगल ने कहा है कि अगले सप्ताह तक सभी के लिए गूगल मीट का फ्री एक्सेस जारी कर दिया जाएगा। गूगल मीट के फ्री होने के बाद गूगल का सीधा मुकाबला फेसबुक के मैसेंजर रूम और जूम एप से होगा। गूगल मीट में भी एक बार में 250 लोग वीडियो मीटिंग कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here