Government Imposes Ban On Viewers In IPL, Tournament May Be Postponed – कोरोना वायरस का असर : सरकार ने आईपीएल में दर्शकों पर लगाया प्रतिबंध, हो सकता है टूर्नामेंट स्थगित

0
5


खेल मंत्रालय ने BCCI समेत सभी खेल महासंघों को कह दिया है कि अगर किसी टूर्नामेंट का आयोजन करवाना जरूरी है तो उसे बंद दरवाजे के भीतर करवाया जाए।

नई दिल्ली : खेल मंत्रालय ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) सहित अन्य राष्ट्रीय खेल महासंघों के सामने स्पष्ट कर दिया है कि कोरोनो वायरस (CoronaVirus) के खतरे के बीच अगर देश में अगर किसी भी टूर्नामेंट का आयोजन करना है तो उसे बंद दरवाजों के बीच ही आयोजित करना होगा। सरकार के इस फैसले के बाद अब अगर बीसीसीआई अगर इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) का आयोजन करती है तो उसे टूर्नामेंट के बिना ही इस टूर्नामेंट का आयोजन करना होगा। इसके अलावा भारत सरकार ने तत्काल प्रभाव से सभी वीजा भी 15 अप्रैल तक रद्द कर दिए हैं। इसके बाद यह तय हो गया है कि अगर आईपीएल का आयोजन होता है तो 15 अप्रैल तक इस टूर्नामेंट में विदेशी खिलाड़ी नहीं नजर आएंगे। इसके मद्देनजर शनिवार को आईपीएल कार्यकारी की मुंबई में होने वाली बैठक में इस पर बड़ा निर्णय लिया जा सकता है। आईपीएल स्थगित भी किया जा सकता है।

कोरोना वायरस का डर टीम इंडिया को भी, युजवेंद्र चहल ने बचाव के लिए पहना मास्क

खेल सचिव ने कहा, बिना दर्शकों के किया जाए आयोजन

खेल सचिव राधे श्याम जुलानिया ने कहा कि अगर ऐसा लगता है कि इस आयोजन को टाला नहीं जा सकता तो आयोजकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि इसमें दर्शक न आ पाएं। उन्होंने बताया कि इस संबंध में बीसीसीआई समेत सभी खेल संघों से कहा गया है कि वह स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी दिशा-निर्देशों का पालन करें। इसके अलावा हमने उन्हें किसी भी सार्वजनिक सभा से बचने के लिए भी कहा है। उन्होंने कहा कि यह राज्य सरकारों पर है, जन्हें दर्शकों का प्रबंधन करना है। उनके पास महामारी रोग अधिनियम 1897 के तहत यह शक्ति प्राप्त है।

कर्नाटक सरकार ने आईपीएल के आयोजन में जताई असमर्थता, केंद्र सरकार को लिखा पत्र!

बीसीसीआई ने कहा, सरकार के दिशा-निर्देशों का करेंगे पालन

खेल मंत्रालय के इस दिशा-निर्देश के बाद जब इस पर एक बीसीसीआई अधिकारी से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि उन्हें भी सरकार के फैसले का पालन करने की जरूरत है। अधिकारी ने कहा कि बीसीसीआई खेल, अपने खिलाड़ियों, प्रशंसकों और लीग के हित में सर्वश्रेष्ठ कदम उठाएगा। उन्होंने कहा कि परिस्थितियां तेजी से बदल रही हैं। इस स्थिति पर बोर्ड का नियंत्रण नहीं है। बता दें कि शनिवार को आईपीएल कार्यकारी परिषद की मुंबई में बैठक होनी है। इस बैठक में परिषद को केंद्र सरकार की ओर से जारी निर्देशों को ध्यान में रखते हुए एक फैसला करना है।”

15 अप्रैल तक विदेशी खिलाड़ियों पर रोक

इस बीच भारत सरकार ने फैसला लिया है कि कुछ अधिकारी कैटेगरी के वीजा को छोड़कर भारत आने के लिए किसी को भी 15 अप्रैल तक वीजा नहीं दिया जाएगा। तत्काल प्रभाव से सभी वीजा रद्द कर दिए गए हैं। इसके बाद यह तय हो गया है कि अगर आईपीएल का आयोजन होता भी है तो 15 अप्रैल तक बिना विदेशी खिलाड़ियों के ही आईपीएल का 13वां संस्करण खेला जाएगा।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here