Happy Holi 2020: Safety Tips for Celebrating Holi during Pregnancy and corona virus precautions during celebration of holi

0
31


Tips How Moms To Be Can Enjoy The Festival Of Colours Holi:यूं तो प्रेग्नेंट महिलाओं को हर समय अपनी सेहत और डाइट का ध्यान रखना चाहिए। लेकिन मौका जब किसी त्योहार या जश्न का हो तो अपनी सेहत के प्रति उनकी जिम्मेदारी थोड़ी और बढ़ जाती है। गर्भवती महिलाओं की इम्यूनिटी दूसरे लोगों की तुलना में कमजोर होती है। ऐसे में सेहत के प्रति बरती थोड़ी सी भी लापरवाही गर्भ में पल रहे शिशु और महिला को नुकसान पहुंचा सकती है। 10 मार्च यानी मंगलवार को होली का त्योहार है। ऐसे में अगर आप प्रेग्नेंट हैं तो होली पर आपको खास सावधानी बरतने जरूरत है। गर्भवती महिलाएं होली खेलने के लिए नैचुरल, हर्बल या इको फ्रैंडली रंगो का ही इस्तेमाल करें। ऐसा न करने पर आपकी स्किन डैमेज होने के साथ पेट में पल रहे बच्चे को भी नुकसान पहुंच सकता है। ऐसे में आइए जानते हैं आखिर क्या हैं वो सावधानियां जिन्हें अपनाकर गर्भवती स्त्रियां भी रंगों के इस त्योहार का मजा उठा सकती हैं। 

1-सिंथेटिक कलर से रहें दूर-
आजकल होली के दौरान जिन रंगों का इस्तेमाल किया जाता है वह केमिकल मिलाकर तैयार किए जाते हैं जिससे प्रेग्नेंट महिला के साथ उसके नवजात बच्चे को भी खतरा हो सकता है। डॉक्टरों की मानें तो केमिकल वाले कलर्स का इस्तेमाल करने से व्यक्ति की स्किन के साथ-साथ आंखों और लंग्स को भी नुकसान पहुंचता है। गर्भवती महिलाएं होली खेलने के लिए नैचुरल, हर्बल या इको फ्रैंडली रंगो का ही इस्तेमाल करें। आप चाहें तो घर पर हल्दी, चकुदंर, प्याज ,पालक और धनिया पत्ता से घर पर रंग बना सकती है। इससे आपकी सेहत को भी नुकसान नहीं होगा और आपकी होली भी एंजॉय कर लेंगी।

2-भ्रूण को पहुंचता है नुकसान-
सिंथेटिक, डाई और ऑक्सिडाइज्ड मेटल से मिलकर बने रंगों से होली खेलने से बच्चे के नर्वस सिस्टम और रेस्पिरेटरी सिस्टम को नुकसान पहुंचा सकता है। इतना ही नहीं केमिकल वाले रंगों का इस्तेमाल करने से कई बार मिसकैरेज, प्रीमच्योर डिलिवरी और जन्म के वक्त बच्चे का वजन कम होना जैसे गंभीर लक्षण भी दिखाई देने लगते हैं। 

3-भीड़- भाड़ से दूर रहें-
प्रेग्नेंसी के दौरान भीड़-भाड़ से भी बचना चाहिए, इससे सफोकेशन की समस्या हो सकती है। इसके अलावा धक्का लगने का भी डर रहता है। साथ ही इस वक्त देशभर में कोरोना वायरस का भी खतरा है। ऐसे में भीड़ भाड़ वाली जगहों पर ना ही जाएं तो बेहतर होगा।

4-डाइट का रखें ख्याल-
होली के समय गर्भवती महिलाओं को खास तौर पर अपनी डाइट का ध्यान रखना चाहिए। बाहर से मिठाई खरीदने की जगह कोशिश करें कि घर पर बनी मिठाई या खाना ही खाएं। बाजार से मिलने वाली मिठाई या खाना हो सकता है सेहत के लिहाज से आपके लिए अच्छा न हो। ऐसा इसलिए क्योंकि त्योहारों के समय अक्सर मिठाईयों में मिलावट खी खबरें आती रहती हैं।  

5-पानी वाली होली से करें परहेज- 
होली में पानी का इस्तेमाल आम बात है। लेकिन अगर आप गर्भवती हैं तो पानी वाली होली खेलने से बचना ही समझदारी है। पानी वाली होली खेलने से आपके फिसलने का खतरा बढ़ सकता है। ऐसा करना प्रेग्नेंट महिला ही नहीं बल्कि उसके होने वाले बच्चे के लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकता है। 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here