How did the policeman get 2 lakh after blackmail Audi rider boy return from massage parlour know the whole matter

0
7


दिल्ली के नेताजी सुभाष प्लेस इलाके में मसाज कराकर लौट रहे युवक से पुलिसकर्मी ने वीडियो वायरल होने की धमकी देकर दो लाख वसूल लिए। यही नहीं आरोपी पैसे लेने के लिए पीड़ित युवक की ऑडी कार में आधे घंटे तक बैठा भी रहा। पुलिस ने आरोपी हवलदार राकेश कुमार को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी इस समय मंजीत सिंह बिट्टा की सुरक्षा में तैनात है। 

सूत्रों के अनुसार, 21 साल का छात्र प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटी से एमबीए कर रहा है। वह अपने परिवार के साथ संदेश विहार इलाके में रहता है। पुलिस को दी गई शिकायत में छात्र ने बताया कि वह उसने जस्ट डायल के जरिए मसाज सेंटर का नम्बर ढूंढ़ा। फिर वह 11 फरवरी को पीतमपुरा स्थित मसाज सेंटर पर गया और एक युवती से मसाज कराई। इसके बाद वह शाम को अपनी ऑडी कार से घर लौट रहा था। अभी वह घर पर पहुंचा ही था कि तभी बाइक पर एक व्यक्ति उसके पीछे पीछे आया। बाइक सवार के हाथ में हथकड़ी थी।

छापे और वीडियो बनाने की बात कही
बाइक सवार ने छात्र से कहा कि वह क्राइम ब्रांच से है और वह जिस मसाज सेंटर पर गया था वहां पर छापा पड़ा है। इस दौरान छापे में उन्हें वह वीडियो भी मिला है जिसमें छात्र एक युवती से मसाज कराते हुए दिख रहा है। बाइक सवार ने वीडियो वायरल न हो इसके लिए छात्र से पांच लाख रुपये भी मांगे। इसके बाद बाइक से उतर कर वह शख्श कार में बैठ गया और छात्र घर से रुपये लाने के लिए चला गया। घर में रखे दो लाख रुपये चुराकर छात्र ने इसे बाइक सवार को दे दिए। इसके बाद वह रुपये लेकर चला गया।

सीसीटीवी कैमरे की फुटेज से मिला सुराग
इस बीच छात्र के व्यवसायी पिता ने जब रुपये नहीं देखे तो अपने बेटे से पूछताछ की। फिर छात्र ने सारी बातें बता दीं और इसके बाद परिजनों ने थाने में शिकायत दी। पुलिस ने पहले धोखाधड़़ी की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया। अभी पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगालनी शुरू की तो बाइक सवार शख्श की फोटो आदि सब आ गई और उसकी बाइक का नम्बर भी आ गया। लेकिन उस नम्बर की कोई बाइक नहीं थी जिससे पुलिस के सामने रास्ते बंद हो गए। 

पहले के किए अपराध से मिला सुराग
पुलिस टीम पीतमपुरा स्थित स्पा सेंटर के मालिकों को फुटेज दिखाकर जानकारी हासिल करने की कोशिश करने लगी। इस बीच किसी ने बताया कि पांच साल पहले ऐसा ही एक शख्श को इसी तरह वसूली करते हुए शालीमार बाग में लोगों ने पकड़ा था। उस व्यक्ति की पिटाई हुई थी और वीडियो भी बनाया गया था लेकिन पुलिस को सूचना नहीं दी गई थी। फिर पुलिस की टीम बताई हुई जगह पर गई तो वहां एक स्पा सेंटर मालिक के पास वह पांच साल पहले वाला वीडियो मिल गया जिसमें वसूली की कोशिश में शख्श की पिटाई की गई थी। वीडियो में दिख रहा शख्श वही था जिसने छात्र से दो लाख रुपये वसूले थे। फिर आसपास के लोगों जानकारी हासिल कर पुलिस ने बुधवार को छापा मारकर घर में सो रहे 48 साल के हवालदार को गिरफ्तार कर लिया। 

बिट्टा की सुरक्षा में है तैनात 
जांच में मालूम हुआ कि आरोपी वर्तमान में बिट्टा की सुरक्षा में संतरी की ड्यूटी कर रहा था। वह 1994 में बतौर कांस्टेबल दिल्ली पुलिस में भर्ती हुई था। वह 2009 से 2014 तक क्राइम ब्रांच के एंटी एक्सटार्शन सेल में भी तैनात था और वर्तमान में वह सिक्योरिटी में तैनाती थी। अब पुलिस इस आरोपी के अन्य संलिप्तता की भी जांच कर रही है। इस गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने धोखाधड़ी की जगह अवैध वसूली की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया है। 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here