How Is This City Of Brazil Grooming Environment – ब्राजील का ये शहर कैसे संवार रहा है पर्यावरण

0
18


-कंक्रीट और टीन की बसावट के बीच खो रही हरियाली को फिर से आबाद करने के लिए छतों पर उगा दिए बगीचे

-10 से 11 अरब टन कार्बन उत्सर्जन करती है दुनिया हर वर्ष, जिसे रोकने में जंगल सबसे अहम

जयपुर.

ब्राजील का प्रोविदेंशिया शहर सूखे पर हरियाली का पैबंद लगा रहा है, ताकि जलवायु परिवर्तन से होने वाले नुकसान से बचा सके। दक्षिण अमरीकी देश ब्राजील हरियाली के लिहाज से काफी उन्नत रहा है, लेकिन अब पेड़ों की कटाई और इन्फ्रास्ट्रक्चर प्लान में हरियाली की अनदेखी ने बड़े संकट को जन्म दे दिया है। विकास के नाम पर वनों को काटकर कंक्रीट के जंगल खड़े कर लिए। जब इसका दुष्प्रभाव नजर आने लगा तो लोग हरियाली को घरों तक ले आए। ताजा उदाहरण रियो डी जेनेरियो के निकट प्रोविदेंशिया का है। ये एक गरीब इलाका है। लेकिन सघन बसावट के चलते पर्यावरण का चक्र बिगडऩे लगा। अब लोगों घर और छतों पर पेड़ पौधे लगा रहे हैं।

धरती के सूख रह आंचल को हरियाली की चुनर ओढ़ा रहे हैं ताकि पर्यावरण के साथ जीवन भी बचा रहे। इतना ही नहीं बच्चों को भी हरियाली का महत्व समझा रहे हैं, ताकि कंक्रीट के जंगलों में आने वाली नस्लों का दम नहीं घुटे। प्रोविदेंशिया में ज्यादातर घर टिन शेड के बने हैं, जिसके कारण यह ‘हीट आइलैड’ में तब्दील हो गया। स्थानीय प्रशासन अब ऐसे प्रयोग ब्राजील के अन्य कस्बों में भी करने पर विचार कर रहा हैं।








LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here