If Constipation Persists Then Eat Bran Bread – अगर कब्ज रहता है तो खाएं चोकर की रोटी, जानें इसके फायदे

0
8


इसमें कैल्शियम, सिलीनियम, मैगनीशियम, पोटेशियम, फॉस्फोरस जैसे खनिजों के साथ-साथ विटामिन-ई और बी कॉम्प्लेक्स भी पाए जाते हैं।

चोकर वाला आटा खाना फायदेमंद होता है लेकिन ये फायदे क्या होते हैं इसके बारे में बहुत कम लोगों को ही पता होता है। चोकर में बहुत सारे लवण और विटामिन होते हैं। इसी वजह से इसे आदर्श रेशा भी कहा जाता है। चोकर वाला आटा खाने से शरीर के लिए जरूरी तत्व हमें मिलते हैं। जिन लोगों को कब्ज की समस्या रहती है, उन्हें गेहूं की चोकर युक्त रोटी खानी चाहिए। चोकर की रोटी पानी ज्यादा सोखती है और पेट में मल को सूखने नहीं देती। दरअसल गेहूं के चोकर में अघुलनशील फाइबर होता है, जिसे सैल्यूलोज कहते हैं। इसमें कैल्शियम, सिलीनियम, मैगनीशियम, पोटेशियम, फॉस्फोरस जैसे खनिजों के साथ-साथ विटामिन-ई और बी कॉम्प्लेक्स भी पाए जाते हैं।

चोकर आंतों को सुरक्षित रखने के साथ-साथ कैंसर से भी रक्षा करता है। यह अमाशय के घाव को ठीककर टीबी से भी रक्षा करता है। चोकर हृदय रोग से बचाने के साथ-साथ कोलेस्ट्रोल की समस्या नहीं होने देता। नहाने के पानी में आधा कटोरी चोकर मिलाकर स्नान करने से चर्मरोग में भी राहत मिलती है। अपेंडिसाइटिस और बवासीर जैसी बीमारियों में भी चोकर वाला आटा बहुत फायदेमंद होता है।

ऐसे करें प्रयोग –
गेहूं के एक किलो आटे में 100 ग्राम चोकर मिला लें और इस आटे की रोटी बनाकर खाएं। इससे खाना न पचने की समस्या दूर होगी और आपको कब्ज से छुटकारा मिलेगा। 5 कप पानी में 25 ग्राम चोकर, तुलसी के 10-11 पत्ते व मुनक्के के 10-11 दाने डालकर अच्छी तरह उबालें। मीठा करने के लिए इसमें शक्कर डाल लें। चोकर वाली स्वादिष्ट चाय लाभ देगी। जितना चोकर लें, उससे दोगुना पानी डालकर एक घंटे के लिए रखे दें। नहाने से पहले इसे पूरे शरीर पर मसलने से त्वचा मुलायाम व चमकदार होगी। ये फाइबर का खजाना होता है जो मोटापा घटाने में भी कारगर होता है।












LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here