Indian Bank Cut MCLR Rates On Different Tenure On Home, Auto Loan – Corona Crisis के दौरान Indian Bank ने दी Interest Rate में बड़ी राहत

0
23


  • सीमांत लागत आधारित कर्ज की ब्याज दर में 0.30 फीसदी कटौती
  • बैंक की घोषणा के तहत 3 महीने तक प्रभावी रहेंगी नई ब्याज दरें

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस लॉकडाउन ( Coronavirus Lockdown ) है। ऐसे में कई बैंकों की ओर से अपने ग्राहकों को कई तरह की राहतें देने की घोषणा की है। इस कड़ी में इंडियन बैंक ( Indian Bank ) का नाम भी शामिल हो गया है। जिसने अपने ग्राहकों को सीमांत लागत आधारित कर्ज की ब्याज दर ( MCLR ) में 0.30 फीसदी कटौती की है। बैंक की ओर से यह घोषणा बाजार में चल रही प्रतिस्पर्धा को ध्यान में रखते हुए की है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर बैंक की कटौती के बाद ब्याज दरें कितनी हो गई हैं।

यह भी पढ़ेंः- Vodafone Idea को Supreme Court से झटका, सिर्फ 733 करोड़ रुपए का मिलेगा Tax Refund

कटौती के बाद यह हो गईं ब्याज दरें
इंडियन बैंक की ओर से जारी बयान के अनुसार बयाज दर घटाने के बाद एमसीएलआर दरों में 0.30 फीसदी कटौती करने के बाद मौजूदा दर 8.10 फीसदी से कम होकर 7.80 फीसदी हो गई हैं। इसके अलावा एक दिन और एक महीने के कर्ज पर एमसीएनआर की दरें 0.30 फीसदी कटौती के साथ 7.50 और 7.55 फीसदी पर आ गई हैं। वहीं तीन महीने के कर्ज का रिवाइज्ड रेट 7.70 फीसदी और छह महीने के कर्ज की नई ब्याज दर 7.75 फीसदी हो गई हैं। इसस पहले यह दरें क्रमश: 8 फीसदी और 8.05 फीसदी पर थी।

यह भी पढ़ेंः- Corona Crisis में Alphabet Inc ने कमाए 41.2 अरब डॉलर, 6.1 अरब डॉलर का मुनाफा

तीन महीने के लिए प्रभावी होंगी दरें
इंडियन बैंक की ओर से जारी बयान के अनुसार नई ब्याज दरें तीन महीने के लिए लागू रहेंगी। बैंक के अनुसार ब्याज दरों में कटौती बाजार में कम होती ब्याज दरों के अनुसार की गई हैं। आपको बता दें कि बीते महीने भारतीय रिजर्व बैंक की ओर से ब्याज दरों में कटौती करने के बाद फाइनेंशियल मार्केट में सुस्ती देखने को मिल रही है। केंद्रीय बैंक की ओर से 27 मार्च 2020 को एमपीसी की बैठक में रेपो दरों में 0.75 फीसदी कम कर 4.40 फीसदी किया था।

यह भी पढ़ेंः- Air Travel के लिए मिलेगा Advance Alert, 10 दिन पहले सरकार देगी सूचना!

केनरा बैंक की ओर से कम ब्याज दरें
– केनरा बैंक ने रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट में 75 बेसिस प्वाइंट्स की कटौती की है।
– अब बैंक का रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट 8.05 फीसदी से कम होकर 7.30 फीसदी हो गया है।
– बैंक ने मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट्स में 35 आधार अंकों की कटौती की है।
– नई दरें 7 अप्रैल से प्रभावी होंगी।
– बैंक ने एक साल के कर्ज पर 0.35 फीसदी, 6 महीने के कर्ज पर 0.30 फीसदी, 3 महीने के कर्ज पर 0.2 फीसदीऔर एक महीने के कर्ज पर 0.15 फीसदी की कटौती की है।







Show More












LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here