Iran: Over 700 Dead After Drinking Alcohol To Cure Coronavirus – कोरोना वायरस के डर से ईरानी पी रहे जहरीला मेथनॉल, अब तक 700 से अधिक लोगों की मौत

0
35


तेहरान। जहरीले मेथनॉल (Methanol) को पीने से ईरान में 700 से अधिक लोगों की मौत हो गई है। कोरोनो वायरस (Coronavirus) से बचने के लिए इसे पिया गया था। राष्ट्रीय कोरोना प्राधिकरण का कहना है कि इसे पीने से 20 फरवरी से 7 अप्रैल के बीच 728 ईरानी मारे गए। बीते साल शराब की विषाक्तता से केवल 66 मौतें हुई थीं।

अप्रैल में जारी कोरोना वायरस महामारी से संबंधित एक रिपोर्ट के अनुसार, अल्कोहल(Alcohol) विषाक्तता ने पिछले साल ईरान के मौंत के आंकड़े में 10 गुना वृद्धि हुई है। ईरानी स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता किन्यौस जहानपुर का कहना है कि अब तक 5,011 लोगों ने मेथनॉल अल्कोहल का सेवन किया था, इसमें से लगभग 90 लोगों की आंखों की रोशनी चली गई और कुछ की सेहत गंभीर है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के सलाहकार होसैन हसैनियन ने कहा कि इस दौरान कई लोगों की आंखों की रोशनी चली गई। ऐसे लोगों की अंतिम संख्या बहुत अधिक हो सकती है। ईरान में अब तक कोरोना वायरस से 5,806 मौतें और 91,000 से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं। ईरान का मध्य पूर्व क्षेत्र सबसे अधिक कोरोनो वायरस का शिकार रहा है।

मेथनॉल को न तो सूँघा जा सकता है और न ही पेय का स्वाद होता है। इससे इंसान की छाती में दर्द, मतली,अंधापन और यहां तक कि कोमा जाने का खतरा बना रहता है। गुरुवार को अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रोगियों में कीटाणुनाशक इंजेक्शन लगाने से कोरोना से ठीक होने की संभावना जताई थी। जिसके बाद डॉक्टरों ने इस तरह के बयान न देने की हिदायत दी थी।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here