Leander Paes says Indian tennis needs coaches like rahul Dravid and pulela Gopichand

0
25


भारत के दिग्गज टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस ने कहा है कि भारतीय टेनिस को अगर आगे ले जाना है तो पूर्व क्रिकेटर राहुल द्रविड़ और पूर्व बैडमिंटन खिलाड़ी तथा मौजूदा राष्ट्रीय कोच पुलेला गोपीचंद जैसे लोगों की जरूरत है जो रिटायर होने के बाद युवा प्रतिभाओं को तराश सकें। महाराष्ट्र लॉन टेनिस एसोसिएशन (एमएलटीए) द्वारा महाराष्ट्र सरकार के सहयोग से आयोजित कराए जा रहे टाटा ओपन महाराष्ट्र के तीसरे संस्करण से इतर पेस ने कहा, “अगर मैं भारत के कुछ पूर्व खिलाड़ियों को देखूं जिनके लिए मेरे दिल में बेहद सम्मान हैं उनमें राहुल द्रविड़ और गोपीचंद जैसे पूर्व खिलाड़ी हैं जिन्होंने युवा पीढ़ी को उच्च स्तर के लिए तैयार किया है।”

2001 में ऑल इंग्लैंड ओपन का खिताब जीतने के बाद गोपीचंद ने कोच के तौर पर काफी सफलता हासिल की और देश को दो ओलम्पिक पदक विजेता दिए। वहीं दूसरी तरफ भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने खेल से संन्यास लेने के बाद युवा प्रतिभाओं को तराशने में अहम भूमिका निभाई। पेस ने कहा, “हमें देश में टेनिस को दोबारा से खोजना होगा क्योंकि आईपीएल, टेबल टेनिस, मुक्केबाजी, कुश्ती, बैडमिंटन, कबड्डी जैसे खेलों की लीग आने से प्रतिस्पर्धा बढ़ गई है।”

बेंगलुरु ओपन एटीपी चैलेंजर में खेलेंगे पेस, भारत में आखिरी टूर्नामेंट

उन्होंने कहा, “भारतीय टेनिस को ऊर्जा के इन्जेक्शन की जरूरत है। हमें ज्यादा से ज्यादा बच्चों को खेल से जोड़ना होगा। इस समय बच्चों के सामने कई ध्यान भटकाने वाली चीजें हैं और खेल तथा टेनिस उन्हें सही रास्ते पर लाने का अच्छा तरीका है।”आठ बार युगल वर्ग में ग्रैंड स्लैम जीतने वाले पेस महाराष्ट्र ओपन में मैथ्यू इबडेन के साथ खेल रहे हैं। यह जोड़ी पुरुष युगल में क्वार्टर फाइनल में रामकुमार रामनाथन और पूरव राजा की जोड़ी से हार गई।

पेस ने जनवरी में ही कह दिया था कि वह इस साल के बाद संन्यास ले लेंगे। मैच के बारे में पेस ने कहा, “वह दोनों शानदार खेल रहे हैं। वह 85 प्रतिशत पहली सर्विस पर अंक ले रहे हैं। यह अविश्वसनीय है। वह बेहतरीन फॉर्म हैं, जिसे भी छूते हैं वो चीज सोना बन जाती है।”

ओलंपिक को ध्यान में रख भारत हर मैच के साथ सुधार कर रहा है: गुरजंत सिंह

 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here