Learn why walking is better than going to the gym for body energy

0
65


बिना जिम जाए वजन घटाने के लिए रास्ता खोज रहे हैं तो इसके लिए वॉकिंग सबसे अच्छा विकल्प हो सकता है। पैदल चलना एक शानदार व्यायाम है जो आपके संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा है। पैदल चलने के कई फायदे हैं। वजन कम करना, पाचन में सुधार, हड्डियों की मजबूती, ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखना, हृदय का बेहतर स्वास्थ्य आदि इसमें शामिल हैं, लेकिन पैदल चलने का एक बड़ा फायदा है मेटाबॉलिज्म (चयापचय) में सुधार। मेटाबॉलिज्म यानी वो प्रक्रिया जिसके जरिए शरीर भोजन को ऊर्जा में बदलता है और फिर यह ऊर्जा अलग-अलग कामों पर खर्च होती है। पैदल चलना वास्तव में जिम जाने से ज्यादा मेटाबॉलिज्म को गति दे सकता है।
 
www.myupchar.com से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला का कहना है कि मेटाबॉलिज्म अच्छा होता है तो शरीर सही तरीके से काम करता है। शरीर का मेटाबॉलिज्म तेज होता है तो आसानी से कैलोरी बर्न होती है। उनके मुताबिक, मेटाबॉलिज्म बेहतर होने पर अधिक ऊर्जा मिलती है और व्यक्ति अच्छा महसूस करता है।
 
ट्रिनिटी कॉलेज डबलिन में एक्सपरीमेंटल ब्रेन रिसर्च डिपार्टमेंट का एक शोध डोन्ट टेल मी द स्कोर पॉडकास्ट में प्रकाशित हुआ है। इसमें बताया गया है कि क्यों लोगों को अधिक पैदल चलना चाहिए। इसका एक कारण यह बताया कि जिम जाने की बजाय व्यायाम के रूप में पैदल चलने से मेटाबॉलिज्म बेहतर होता है।
 
मेटाबोलिज्म एक रासायनिक प्रक्रिया है जो शरीर में चलती है और आपको अपने अंगों को सामान्य रूप से कार्य करने के लिए जीवित रखती है। इस प्रक्रिया में ऊर्जा की आवश्यकता होती है  और मेटाबॉलिज्म जितना अधिक होता है, जीवित रखने के लिए अधिक कैलोरी जला दी जाती है।
 
शोध में बताया गया कि दिन के दौरान नियमित रूप से लो लेवल एक्टिविटी मेटाबॉलिज्म के लिए बेहतर होती है, लेकिन यह छोटी-छोटी क्रियाओं के बजाय तीव्र गतिविधि है। यह भी बताया गया कि कैसे लोग एक घंटे के लिए जिम जाने के लाभों को ज्यादा आंकते हैं, जब वे बाकी दिनभर निष्क्रिय हो जाते हैं।
 
मेटाबॉलिज्म बढ़ाने के लिए ये भी हैं उपाय
प्रोटीन का सेवन करने पर मेटाबॉलिज्म में कुछ ही घंटों में फर्क दिखने लगता है। अधिक प्रोटीन खाने से ज्यादा भोजन से बच जाते हैं और बार-बार भूख नहीं लगती।
सामान्य पानी की जगह ठंडा पानी पीते हैं तो ज्यादा कैलोरी बर्न होती है, क्योंकि शरीर ठंडे पानी को शरीर के तापमान के बराबर लाने के लिए ऊर्जा का इस्तेमाल करता है।
ज्यादा देर तक बैठना सेहत के लिए अच्छा नहीं है। इसकी बजाए खड़े रहकर काम करने से अतिरिक्त कैलोरी बर्न कर सकते हैं।
नींद की कमी मोटापा बढ़ाती है। इसके कारण मेटाबॉलिज्म पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है और वजन बढ़ने लगता है। इसलिए भरपूर नींद लें।
मेटाबॉलिज्म ठीक रखने के लिए नीबू, ग्रीन टी, लाल मिर्च, सेब, अदरक, ब्लैक कॉफी, दालचीनी, बादाम, ब्रोकली आदि का सेवन करना चाहिए।
मसालेदार भोजन मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने में मदद करता है। मिर्च में मौजूद कैप्साइसिन नाम का पदार्थ यह काम करता है।

अधिक जानकारी के लिए देखें : https://www.myupchar.com/tips/metabolism-badhane-ke-liye-kya-khaye-in-hindi

स्वास्थ्य आलेख www.myUpchar.com द्वारा लिखे गए हैं


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here