New Zealand Declared Itself Free From Corona Virus – इस देश ने खुद को कोरोना वायरस से मुक्त घोषित किया

0
35


जीलेंड के प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न ने अपने देश से ‘कोरोना उन्मूलन’ की घोषणा करते हुए कहा कि हमने यह लड़ाई जीत ली है। प्रधानमंत्री जैसिंडा दावा करती हैं कि सरकार ने देश में कोरोना वायरस के सामुदायिक प्रसारण को रोक दिया है।

दुनिया भर में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के बढ़ते मामलों के बीच 26 अप्रेल को न्यूजीलेंड के प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न ने अपने देश से ‘कोरोना उन्मूलन’ की घोषणा करते हुए कहा कि हमने यह लड़ाई जीत ली है। प्रधानमंत्री जैसिंडा दावा करती हैं कि सरकार ने देश में कोरोना वायरस के सामुदायिक प्रसारण को रोक दिया है। लेकिन उन्होंने वायरस को कैसे रोका इस बारे में उन्होंने ज्यादा कुछ नहीं बताया है। अब इस घोषणा के बाद सरकार देश में लॉकडाउन में ढील देने की तैयारी कर रही है। बीते कई दिनों में कोई नया मामला दर्ज नहीं होने पर पीएम अर्डर्न ने कहा कि देश अब सामान्य दिनचर्या में वापस आ सकता है। इस बीच मंगलवार से गैर-आवश्यक व्यवसाय, स्वास्थ्य सेवा कार्यालय और शिक्षा गतिविधियों को फिर से शुरू किया जाएगा। हालांकि न्यूजीलैंड के नागरिकों को अब भी अपने घरों से अनावश्यक बाहर जाने के लिए मना किया गया है।

कोरोना उन्मूलन को ऐसे समझें-
पीएम अर्डर्न ने कहा कि उनका यह कदम अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने के लिए है। वे अब भी लोगों को फिजिकल डिस्टैंसिंग के लिए कह रही हैं। वहीं न्यूजीलैंड के स्वास्थ्य महानिदेशक एशले ब्लूमफील्ड ने सरकार की कार्रवाई के बारे में कहा कि हाल के दिनों में नए मामलों की गिरावट के आधार पर हमारा अनुमान है कि देश ने कोरोना उन्मूलन के लक्ष्य को प्राप्त कर लिया है। उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना उन्मूलन की घोषणा का यह मतलब नहीं है कि अब कोई नया मामला सामने नहीं आएगा लेकिन अब हम यह जानते हैं कि वह कहां से आएगा।

कैसे पाया कोरोना पर काबू-
पीएम अर्डर्न ने कहा कि न्यूजीलैंड उन देशों में से एक है जिन्होंने देश में पहली बार पॉजिटिव कॉरोनोवायरस केस मिलने पर लॉकडाउन लागू किया था।यही कारण कि हमारे यहां कोरोना से हुई मौतों का आंकड़ा बेहद कम है। हमने समझदारी फैसले वायरस के सामुदायिक संप्रेषण की सिथति में आने से पहले ही अपनी सीमाओं को बंद कर दिया, लॉकडाउन, क्वारनटाइन,सेल्फ आइसोलेशन, रैपिड टैस्ट और कड़ी निगरानी से इस पर काबू पाया और ज्यादा क्षेत्रों तक फैलने नहीं दिया। इससे देश में हॉटस्पॉट बन ही नहीं पाए। उन्होंने बताया कि लोगों को कम से कम लोगों के बीच रहने को कहा गया था यानी जितना हो सके अकेले या गिनती के लोगों के साथ लॉकडाउन का पालन करें। सभी से कम से कम ६ फीट की दूरी बनाए रखें। इन सब उपायों के एकदम सही समय पर क्रियान्वित होने से देश आज खुद को कोरोना उन्मूलन की घोषणा करने में सक्षम बना पाया है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here