Notorious Maoist Leader Of West Bengal Released From Jail – पश्चिम बंगाल का कुख्यात माओवादी नेता जेल से रिहा

0
47


  • वर्ष 2009 से बंद था जेल में

कोलकाता
पश्चिम बंगाल के बहुचर्चित लालगढ़ आंदोलन के मुखिया व कथित माओवादी नेता छत्रधर महतो 10 साल बाद शनिवार को जेल से रिहा हो गया। वर्ष 2008 में राज्य के तत्कालीन मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य एवं केन्द्रीय इस्पात मंत्री रामविलास पासवान के काफिले पर हमला के मामले में 2009 में छत्रधर महतो को गिरफ्तार किया गया था। उस पर यूएपीए के तहत मामला दर्ज किया गया था। 12 मई 2015को राष्ट्रद्रोह के आरोप में कलकत्ता हाईकोर्ट ने छत्रधर महतो को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। वर्ष 2019 के अगस्त महीने में हाईकोर्ट ने छत्रधर महतो की सजा कम कर दी थी। सजा की मियाद पूरी होने के बाद शनिवार को वह जेल से रिहा हो गया।
—–
लालगढ़ आंदोलन
वर्ष 2008 में पश्चिम मिदनापुर जिले के सालबनी इलाके में तत्कालीन मुख्यमंत्री बुधदेव भट्टाचार्य एवं केन्द्रीय इस्पात मंत्री रामविलास पासवान के काफिले पर माओवादियों ने हमला किया था। हमले के बाद माओवादियों की धर-पकड़ के नाम पर पुलिस ने आदिवासी समदुाय के लोगों पर अत्याचार शुरू किया था। पुलिस के इस अत्याचार के विरोध में छत्रधर महतो ने ‘पुलिस संत्रास विरोध जनसाधारण कमेटीÓ के नाम से संगठन बनाया था। छत्रधर की अगुआई में आदिवासियों ने पुलिस के खिलाफ जोरदार आंदोलन किया था।

पश्चिम बंगाल का कुख्यात माओवादी नेता जेल से रिहा

ममता बनर्जी आंदोलन में थी थीं शामिल
लालगढ़ आंदोलन में तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी छत्रधर महतो के साथ थी। पश्चिम मिदनापुर, बांकुड़ा एवं पुरुलिया जिले में माओवादियों के खिलाफ तत्कालीन वाममोर्चा की सरकार की ओर से शुरू किए गए पुलिसिया अभियान संबंधी छत्रधर महतो के विरोध का समर्थन की थी। छत्रधर महतो के मार्फत ममता बनर्जी ने माकपा के लालदुर्गा के नाम से मशहूर आविासी बहुल उक्त जिलों में अपनी पैठ बनाई थीं।







Show More








LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here