Now ISRO Can Also Join Class 9, Know Full News Here – JOIN ISRO: अब कक्षा 9 में भी ज्वॉइन कर सकते हैं इसरो को, यहां जानें पूरी खबर

0
41


यदि आपकी रुचि अंतरिक्ष को लेकर है और स्पेस साइंस के बारे में और अध्ययन करने के की सोच रहे हैं आपके लिए अच्छी खबर है। बच्चों की जिज्ञासा को लेकर ही भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्था ने स्पेस साइंस की तकनीक व स्पेस साइंस को जानने व समझने के लिए गर्मियों में युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम यानी कि युविका नामक समर कैंप की शुरुआत की है।

यदि आपकी रुचि अंतरिक्ष (Space) को लेकर है और स्पेस साइंस (Space science) के बारे में और अध्ययन करने के की सोच रहे हैं आपके लिए अच्छी खबर है। बच्चों की जिज्ञासा को लेकर ही भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्था ने स्पेस साइंस की तकनीक व स्पेस साइंस को जानने व समझने के लिए गर्मियों में युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम (Young Scientist Program) यानी कि युविका नामक समर कैंप (Summer camp) की शुरुआत की है जिसमें विद्यार्थियों को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्था (Indian Space Research Institute) में वहां की प्रयोगशाला वैज्ञानिकों से फेस टू फेस और स्पेस साइंस (Space Science from Laboratory Scientists) की तकनीकों के बारे में बताया जाएगा।
11 मई से 22 मई के बीच कक्षा 8 क्लास के पास करे हुए विद्यार्थी जो इस वर्ष कक्षा 9 में अध्ययनरत हैं तक के बच्चों के लिए समर कैंप लेकर आ रहा है। इसके लिए 3 फरवरी से 24 फरवरी तक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन (Online registration) शुरू किए जाएंगे और इसमें वही विद्यार्थी प्रतिभाग कर सकता है जो इस वर्ष कक्षा 9 में अध्ययन कर रहा है।

कार्यक्रम का उद्देश्य (Program objective)
इस कार्यक्रम का मुख्‍य लक्ष्‍य युवाओं को अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी, अंतरिक्ष विज्ञान तथा अंतरिक्ष अनुप्रयोगों पर मौलिक ज्ञान देना है, ताकि अंतरिक्ष गतिविधियों के उभरते क्षेत्रों में उनकी रुचि बढ़ाई जा सके। इस प्रकार, इस कार्यक्रम का लक्ष्‍य युवाओं में जागरूकता फैलाना है, जो हमारे राष्‍ट्र के भविष्‍य की निर्माण कड़ी हैं। इसरो ने उन्‍हें “युवा रूप में ही चयनित” करने की योजना बनाई है।

यह होगा कार्यक्रम
यह कार्यक्रम गर्मी की छुट्टियों (11-22 मई 2020) के दौरान 2 सप्‍ताह की अवधि का होगा तथा कार्यक्रम में प्रमुख वैज्ञानिकों से आमंत्रित व्‍याख्‍यान, उनके द्वारा अनुभव साझा करना, सुविधाओं एवं प्रयोगशालाओं को देखने जाना, विशेषज्ञों के साथ विचार-विमर्श हेतु विशेष सत्र, व्‍यावहारिक एवं प्रतिपुष्टि सत्र शामिल होंगे।

यह होगा सिलेक्शन का आधार

1.कक्षा 8 के स्कूली परफॉर्मेंस के 60 प्रतिशत मार्क्स।
2. स्कूल लेवल पर जनपद स्तर, राज्य स्तर और राष्ट्रीय स्तर पर 2016 के बाद से प्रतिभागी बच्चों के लिए 10 परसेंट का वेटेज मिलेगा।
3. 2016 के बाद के विद्यार्थियों जिन्होंने स्कूल लेवल पर जनपद स्तर पर राज्य स्तर पर और राष्ट्रीय स्तर पर स्पोर्ट में प्रतिभाग किया हैं उनको भी 10 प्रतिशत का वेटेज मिलेगा।
4. जो इस वर्ष 9 क्लास में अध्ययनरत हैं और उन्होंने एनसीसी और एनएसएस में प्रतिभाग किया है। उनको पांच प्रतिशत का वेटेज मिलेगा ।
5. ग्रामीण क्षेत्र में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को 15 प्रतिशत का वेटेज मिलेगा।

अधिक जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
http://www.isro.gov.in












LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here