Now You Can Withdraw Your Money Without Bank And ATM Card – अब बिना बैंक और एटीएम कार्ड के निकाल सकेंगे अपना रुपया

0
40


  • पे नियरबाय आउटलेट के थ्रू निकाला जा सकेगा रुपया
  • रुपया निकालने के लिए नहीं देना होगा किसी तरह का कोई चार्ज

नई दिल्ली। पूरे देश में लॉकडाउन है, सबसे ज्यादा परेशानी गरीब लोगों, किसानों और जरुरतमंदों को हो रही है। इसके लिए सरकार प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत ऐसे लोगों के खातों में भेज रहा है। वहीं परेशानी ये है कि देश के कई इलाकों में बैंक और एटीएम की संख्या कम है और लोगों की पहुंच से भी दूर हैं। ऐसे लोगों के लिए अब नया रास्ता निकलकर सामने आया है। जहां से वो रुपया भी आसानी से ले सकेंगे। ना तो उन्हें एटीएम कार्ड की जरुरत होगी और ना ही बैंक जाने की जरुरत होगी। खास बात तो ये है कि वहां से रुपया लेने के लिए आपको किसी तरह का चार्ज भी नहीं देना हागा। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का भी आराम से ख्याल रखा जा सकेगा। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर कौन सा तरीका है।

पे नियरबाय बन रहा है सहारा
वास्तव में गरीब लोगों को घंटों लाइनों में खड़ा होने की परेशानी से बचाने के लिए पे नियरबाय बड़ा सहारा बनता हुआ दिखाई दे रहा है। लॉकडाउन के बीच सरकार द्वारा भेजी जा रही सहायता राशि निकालने के लिएपे नियरबाय के आउटलेट से भी रुपया निकाला जा सकेगा। इसके लिए ना तो एटीएम कार्ड की जरुरत होगी और ना ही शुल्क देना होगा। फिनटेक स्टार्टअप पे नियरबाय के एमडी एवं सीईओ आनंद कुमार बजाज के अनुसार देश भर के ग्रामीण इलाकों में उनके चार लाख से भी ज्यादा बिजनेस करोसपोंडेंट मौजूद हैं। जिनके माध्यम से पीएमकेजीवाई के तहत भेजी जा रही रकम को निकाल सकेंगे। यह सुविधा पूरी तरह से फ्री है।

इस तरह से निकाल सकते हैं अपना रुपया
जानकारी के अनुसार जिनका खाता जन धन खाता या प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत खुला हुआ है, उनकी अनिवार्य रूप से आधार सीडिंग हुई है। ऐसे में जो लोग लाभार्थी हैं वो अपना आधार कार्ड और बैंक पासबुक लेकर अपने इलाके के नियरबाय में जाकर जितना रुपया चाहें निकाल सकते हैं। अगर आपकी दी हुई जानकारी सही होगी तो एग्जीक्यूटिव के पास मौजूद डिवाइस में मालूम चल जाएगा। उसके बाद आपके हाथों को सैनिटाइजर से साफ कराकर डिवाइस में अंगूठे का छाप लिया जाएगा। अंगूठा मिलालन होते ही आपको रुपया मिल जाएगा। मात्र 8 सेकंड में आपका रुपया आपके हाथ में होगा।

बैंक ब्रांच और एटीएम की है कमी
बजाज के अनुसार मौजूदा समय में देश में करीब सवा लाख बैंक ब्रांच हैं। अगर बात गांवों की करें तो यहां पर बैंक ब्रांच सिर्फ 40 हजार ही हैं। वहीं देश में डेढ़ लाख एटीएम हैं जिनमें से एक लाख एटीएम तो बैंक ब्रांचों में ही लगे हैं। देश के 6.5 लाख गांवों में महज 30 हजार गांवों में ही इस समय एटीएम की सुविधा मौजूद है। बजाज के अनुसार पे नियरबाय आउटलेट के नेटवर्क में कुल 8 लाख बैंकिंग करोसपोंडेंट है, जिनमें से करीब 4 लाख गांवों और कस्बों में ही हैं। आापको बता दें कि कोरोना वायरस से लडऩे के लिए सरकार देश के करीब 80 करोड़ लोगों को सहायता राशि भेज रही है। इनके लिए 1.70 लाख करोड़ रुपये के प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की घोषणा हुई है।






coronavirus
Show More


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here