PAK Foreign Minister Qureshi said- BJP loss Delhi elections because of CAA

0
27


कराची। जम्मू-कश्मीर ( Jammu and Kashmir ) से अनुछेद 370 ( Article 370 ) हटने के बाद बौखलाए पाकिस्तान ( Pakistan ) की बौखलाहट कम नहीं हो रहा है। केंद्र की मोदी सरकार ( Modi Government ) के खिलाफ जहर उगलने के लिए पाकिस्तान हर उस मामले में कोई न कोई बहाना ढुंढ लेता है जिससे दूर-दूर तक उनका कोई संबंध नहीं होता है।

ऐसा ही एक मामला फिर देखने को मिला है। पाकिस्तान ने दिल्ली चुनाव ( Delhi Election 2020 ) के परिणाम घोषित होने से पहले बड़ा बयान दियया है। दरअसल, एग्जिट पोल ( Exit Poll ) के आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली चुनाव में हार रही भाजपा ( BJP ) को लेकर पाकिस्तान ने जहर उगला है।

अमरीका-ईरान विवाद से PAK ने बनाई दूरी, विदेश मंत्री कुरैशी ने कहा- हम इस मामले में नहीं लेंगे हिस्सा

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ( shah mehmood qureshi ) ने कहा है कि भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लाए गए नए नागरिकता संशोधन कानून ( CAA ) के कारण उनकी पार्टी भाजपा दिल्ली विधानसभा चुनाव में हार के खतरे का सामना कर रही है।

कुरैशी ने फेडरेशन ऑफ पाकिस्तान चेंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के एक कार्यक्रम में बोलते हुए कहा कि 2019 के आम चुनाव में जीत के बाद भारतीय जनता पार्टी ( BJP ) को तीन राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों में दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

उन्होंने कहा, ‘जहां तक दिल्ली चुनाव की बात है, जहां नतीजे कल (मंगलवार को) घोषित होने वाले हैं, वहां लग रहा है कि भाजपा भारी मुश्किल में है और उस पर एक बड़ी हार का खतरा मंडरा रहा है।’

फॉल्स फ्लैग ऑपरेशन कर सकता है भारत: कुरैशी

भारत के खिलाफ पाकिस्तानी प्रचार को दुनिया का समर्थन नहीं मिलने के संदर्भ में कुरैशी ने कहा कि ‘बहुत से देशों को लगता है कि भारत एक बहुत बड़ा बाजार है, इसीलिए वे अपने आर्थिक हितों के खिलाफ नहीं जाते हैं। सभी बातें नैतिकता और सत्य की करते हैं, लेकिन काम सभी अपने आर्थिक हितों की सुरक्षा के हिसाब से करते हैं।’

कुरैशी ने साथ ही कहा कि ‘कश्मीर मामले में भारत के भेदभावपूर्ण कानून के कारण वे देश भी भारत के साथ संबंधों की समीक्षा कर रहे हैं जिनसे भारत के संबंध गहरे हैं।’

पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने दावा किया कि भाजपा के सत्ता में आने के बाद से भारत की विकास दर आधी रह गई है। कुरैशी ने पाकिस्तान का पुराना राग अलापते हुए कहा, ‘हमें चिंता है कि भारत अपनी आर्थिक स्थिति से ध्यान हटाने के लिए कोई फॉल्स फ्लैग ऑपरेशन कर सकता है।’

कुरैशी की अमरीका को सलाह- अफगानिस्तान से सैन्य वापसी में 1980 जैसी गलती न दोहराएं

अपने देश की बदतर आर्थिक स्थिति के संदर्भ में कुरैशी ने कहा कि दुनिया पाकिस्तान को तभी गंभीरता से लेगी जब इसकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। उन्होंने कहा, ‘इसीलिए आज मैं यहां आया हूं ताकि इस पर बात कर सकें कि कैसे विदेश मंत्रालय, वित्त मंत्रालय व अन्य मंत्रालयों का दुनिया से संपर्क कराने में मददगार हो सकता है।’

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here