Pakistan Four Minor Boys Arrested In Hindu Temple Vandalism Incident In Sindh Province, Set Free – पाकिस्तान: हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ के आरोप में चार गिरफ्तार, पुलिस ने बाद में छोड़ा

0
121


वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, इस्लामाबाद
Updated Sun, 02 Feb 2020 11:08 AM IST

पाकिस्तान में हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ की गई थी
– फोटो : ANI

ख़बर सुनें

पाकिस्तान के सिंध प्रांत के थारपरकर जिले में स्थित हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ करने के आरोप में चार नाबालिग लड़कों को गिरफ्तार किया गया। शनिवार को उन्हें मुक्त कर दिया क्योंकि शिकायतकर्ता ने उनके खिलाफ आरोप वापस ले लिए हैं।

पाकिस्तान के अखबार डॉन की रिपोर्ट के अनुसार प्रेम कुमार ने चार नाबालिग लड़कों के खिलाफ दर्ज मामले को वापस ले लिया है क्योंकि स्थानीय हिंदू पंचायत नेताओं ने उनसे ऐसा करने का अनुरोध किया था। शुरुआती रिपोर्ट के अनुसार, कुमार की शिकायत के आधार पर एफआईआर दर्ज की गई थी।

एफआईआर में कुमार ने कहा था कि 26 जनवरी को चार लोगों ने मंदिर में तोड़-फोड़ की थी। जिन्होंने देवताओं की मूर्तियों को तोड़ दिया था। हालांकि चारों नाबालिग लड़कों की उम्र 12-15 साल के बीच है। उन्होंने मंदिर के अंदर जाने और वहां रखे मनी बॉक्स से पैसा चुराने की बात कही है।  

सोशल मीडिया में यह खबर आने के बाद से ही लोगों ने घटना की निंदा की थी। शनिवार को मीठी के जिला एवं सत्र न्यायालय के समक्ष आरोपियों को पेश किया गया था। अदालत ने सभी की रिहाई का आदेश दिया जब कुमार ने सुनवाई के दौरान उनपर लगे आरोपों को वापस लेने के लिए आवेदन जमा कराया।

पाकिस्तान के सिंध प्रांत के थारपरकर जिले में स्थित हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ करने के आरोप में चार नाबालिग लड़कों को गिरफ्तार किया गया। शनिवार को उन्हें मुक्त कर दिया क्योंकि शिकायतकर्ता ने उनके खिलाफ आरोप वापस ले लिए हैं।

पाकिस्तान के अखबार डॉन की रिपोर्ट के अनुसार प्रेम कुमार ने चार नाबालिग लड़कों के खिलाफ दर्ज मामले को वापस ले लिया है क्योंकि स्थानीय हिंदू पंचायत नेताओं ने उनसे ऐसा करने का अनुरोध किया था। शुरुआती रिपोर्ट के अनुसार, कुमार की शिकायत के आधार पर एफआईआर दर्ज की गई थी।

एफआईआर में कुमार ने कहा था कि 26 जनवरी को चार लोगों ने मंदिर में तोड़-फोड़ की थी। जिन्होंने देवताओं की मूर्तियों को तोड़ दिया था। हालांकि चारों नाबालिग लड़कों की उम्र 12-15 साल के बीच है। उन्होंने मंदिर के अंदर जाने और वहां रखे मनी बॉक्स से पैसा चुराने की बात कही है।  

सोशल मीडिया में यह खबर आने के बाद से ही लोगों ने घटना की निंदा की थी। शनिवार को मीठी के जिला एवं सत्र न्यायालय के समक्ष आरोपियों को पेश किया गया था। अदालत ने सभी की रिहाई का आदेश दिया जब कुमार ने सुनवाई के दौरान उनपर लगे आरोपों को वापस लेने के लिए आवेदन जमा कराया।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here