Pakistan Is Considering To Offer Passport Free Entry To Indian Devotees For Kartarpur Sahib Corridor – बिना पासपोर्ट करतारपुर साहिब के दर्शन कर सकेंगे भारतीय श्रद्धालु, इमरान सरकार कर रही विचार

0
32


करतारपुर गुरुद्वारा साहिब (फाइल फोटो)

ख़बर सुनें

पाकिस्तान के गृह मंत्री इजाज शाह ने कहा है कि उनका देश गुरद्वारा दरबार साहिब के लिए और अधिक आंगुतकों को आकर्षित करने के लिए भारतीय श्रद्धालुओं को बिना पासपोर्ट के करतारपुर गलियारे में प्रवेश देने के एक प्रस्ताव पर विचार कर रहा है।

पिछले साल नवंबर में पाकिस्तान और भारत ने अपनी-अपनी सीमा के अंदर इस गलियारे के हिस्सों का अलग-अलग उद्घाटन किया था। यह गलियारा भारतीय सिख श्रद्धालुओं को पाकिस्तान में नारोवाल के करतापुर में पवित्र गुरद्वारा दरबार सिंह पहुंचने के लिए सबसे छोटा मार्ग उपलब्ध कराता है। करतारपुर साहिब में गुरूनानक देव ने अपने जीवन के आखिरी 18 साल गुजारे थे।

गृह मंत्री ने शुक्रवार को नेशनल एसेम्बली में प्रश्नकाल के दौरान कहा कि फिलहाल, भारत और पाकिस्तान के बीच हुए समझौते के तहत भारतीय श्रद्धालुओं को बिना पासपोर्ट के करतारपुर गलियारे में जाने की इजाजत नहीं है।

उन्होंने कहा कि लेकिन और अधिक पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए उन्हें बिना पासपोर्ट के आने देने के प्रस्ताव पर विचार किया जा रहा है और जिसके लिए विदेश मंत्रालय से विस्तृत संबंधित सूचनाएं मांगी जा सकती है।

पाकिस्तान के गृह मंत्री इजाज शाह ने कहा है कि उनका देश गुरद्वारा दरबार साहिब के लिए और अधिक आंगुतकों को आकर्षित करने के लिए भारतीय श्रद्धालुओं को बिना पासपोर्ट के करतारपुर गलियारे में प्रवेश देने के एक प्रस्ताव पर विचार कर रहा है।

पिछले साल नवंबर में पाकिस्तान और भारत ने अपनी-अपनी सीमा के अंदर इस गलियारे के हिस्सों का अलग-अलग उद्घाटन किया था। यह गलियारा भारतीय सिख श्रद्धालुओं को पाकिस्तान में नारोवाल के करतापुर में पवित्र गुरद्वारा दरबार सिंह पहुंचने के लिए सबसे छोटा मार्ग उपलब्ध कराता है। करतारपुर साहिब में गुरूनानक देव ने अपने जीवन के आखिरी 18 साल गुजारे थे।

गृह मंत्री ने शुक्रवार को नेशनल एसेम्बली में प्रश्नकाल के दौरान कहा कि फिलहाल, भारत और पाकिस्तान के बीच हुए समझौते के तहत भारतीय श्रद्धालुओं को बिना पासपोर्ट के करतारपुर गलियारे में जाने की इजाजत नहीं है।

उन्होंने कहा कि लेकिन और अधिक पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए उन्हें बिना पासपोर्ट के आने देने के प्रस्ताव पर विचार किया जा रहा है और जिसके लिए विदेश मंत्रालय से विस्तृत संबंधित सूचनाएं मांगी जा सकती है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here