Pakistani Shopkeepers Rebels Against Lockdown Said- Will Not Accept After April 15 – Coronavirus: पाकिस्तान में दुकानदारों का बगावत, कहा- 15 अप्रैल के बाद नहीं मानेंगे लॉकडाउन

0
35


कराची। कोरोना वायरस महामारी से लड़ने के लिए दुनियाभर में लॉकडाउन की स्थिति है। इस बीच पाकिस्तान से एक बढ़ी खबर सामने आई है। पाकिस्तान में कोरोना वायरस की महामारी से निपटने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के कारण समाज में तनाव की स्थितियां बनने लगी हैं। कोरोना से बचाव की जरूरत के साथ रोजी-रोटी का सवाल अब और स्पष्टता से उठ रहा है।

दरअसल, देश की वाणिज्यिक राजधानी कहे जाने वाले शहर कराची के दुकानदारों ने स्पष्ट शब्दों में कहा है कि वे 15 अप्रैल के बाद अपनी दुकानों को खोलकर रहेंगे। पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, सिंध के मुख्यमंत्री मुराद अली शाह ने निजी अस्पतालों के मालिकों व वरिष्ठ चिकित्सकों से बात की जिसमें उन्हें कोरोना महामारी के और गंभीर होते जाने का हवाला देते हुए लॉकडाउन को बढ़ाने की सलाह दी गई।

लॉकडाउन पर विरूष्का की लोगों से अपील, 21 दिन तक इंडिया को घर पर रहना है

चिकित्सकों ने कहा कि लॉकडाउन नहीं बढ़ाने की स्थिति में प्रांत और देश को गंभीर नतीजे भुगतने पड़ सकते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह इस सुझाव पर विचार करेंगे।

सिंध में 14 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन

चिकित्सा विशेषज्ञों द्वार पूरे देश में लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाने के आग्रह के बीच, सिंध की राजधानी और पाकिस्तान के सबसे बड़े शहर कराची के दुकानदारों ने सरकार से दो टूक शब्दों में कह दिया कि वे हर हाल में 15 अप्रैल से अपनी दुकानें खोलने जा रहे हैं।

सिंध में 14 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन लागू है। प्रांत में कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए किए गए इस लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया गया जिसकी प्रशंसा हुई है और जिसकी वजह से प्रांत में कोरोना मामलों पर कुछ लगाम भी लगी है।

पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कराची के व्यापारी संगठन आल सिटी ताजिर इत्तेहाद के पदाधिकारियों ने एक प्रेस कांफ्रेंस कर यह ऐलान किया। उन्होंने कहा कि सरकार अब 14 अप्रैल के बाद लॉकडाउन की अवधि न बढ़ाए। अगर सरकार ने ऐसा किया तो इसके खिलाफ व्यापारी मुख्यमंत्री आवास का घेराव करेंगे।

कोरोना संकटः मजदूरों की मदद के लिए आगे आए सलमान खान, 25 हजार डेली वर्कर्स की करेंगे मदद

उन्होंने कहा कि दुकानदार और इसके कामगार अब कोरोबार को और अधिक बंद नहीं रख सकते। पहले से ही जीवनयापन मुश्किल हो गया है और कारोबार को और बंद किया गया तो हालात स्थिति से बाहर हो जाएंगे।

बता दें कि पाकिस्तान में कोरोना से अब तक 4004 लोग संक्रमित हो चुके हैं और 55 लोगों की मौत हो चुकी है। पंजाब प्रांत में सबसे अधिक 2002 और उसके बाद सिंध में 986 लोग संक्रमित हैं।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here