Rani Rampal Received World Games Athlete Of The Year Award – रानी रामपाल को मिला वर्ल्ड गेम्स एथलीट ऑफ द ईयर अवॉर्ड

0
30


Rani Rampal रानी की कप्तानी में ही भारतीय महिला हॉकी टीम ने टोक्यो ओलम्पिक के लिए क्वालिफाई किया है।

लुसाने : भारत की महिला हॉकी टीम (Indian Women Hockey Team) की कप्तान रानी रामपाल (Rani Rampal)को खेल जगत का एक बहुत बड़ा अंतरराष्ट्रीय सम्मान मिला है। गुरुवार को लुसाने, स्विटजरलैंड में इसकी घोषणा की गई। रानी को द वर्ल्ड गेम्स एथलीट ऑफ द ईयर 2019 पुरस्कार का पुरस्कार मिला है। बता दें कि यह पुरस्कार शानदार प्रदर्शन, सामाजिक सरोकार और अच्छे व्यवहार के लिए दिया जाता है।

सर्जरी के बाद नीरज शर्मा की शानदार वापसी, 2020 टोक्यो ओलंपिक के लिए किया क्वालीफाई

इनसे थी रानी की टक्कर

इस सम्मान की होड़ में रानी की टक्कर कराटे स्टार युक्रेन की स्टैनसिलाव होरूना, कनाडा के पावर लिफ्टर चैम्पियन राहेया स्टिन और स्लोवानिया की स्पोर्ट क्लाइम्बिंग स्टार जांजा गार्नब्रेट से थी। इन खिलाड़ियों समेत इस अवॉर्ड के लिए कुल 25 पुरुष और महिला खिलाड़ी को नामित किया गया था। स्क्रीनिंग के बाद यह संख्या 10 कर दी गई थी। इसके बाद इस पुरस्कार के लिए लोगों की राय ली गई। वोटिंग में रानी ने सबको पछाड़कर इस अवॉर्ड पर कब्जा जमाया और पूरी दुनिया में भारत का सम्मान बढ़ाया।

रानी ने देश और टीम को समर्पित किया अवॉर्ड

अवार्ड जीतने के बाद रानी रामपाल ने कहा कि यह उनके लिए गर्व और सम्मान की बात है। यह अवॉर्ड उनकी टीम और उनके देश को जाता है। उन्होंने कहा कि जब आपका देश आपकी मेहनत की कद्र करता है, तब अच्छा लगता है और जब अंतरराष्ट्रीय खेल जगत इसे सम्मान देता है, तब यह और भी अच्छा लगता है। रानी ने वोट करने वालों का शुक्रिया भी अदा किया। उन्होंने कहा कि 2019 हमारी टीम के लिए शानदार साल रहा, क्योंकि हमने टोक्यो ओलम्पिक 2020 के लिए क्वालिफाई किया। एक टीम के लिए हम 2020 को और बेहतर बनाना चाहते हैं।

Kobe Bryant Death: हेलीकॉप्टर क्रैश हादसे में बास्केटबॉल खिलाड़ी कोबी ब्रायंट की मौत, शोक में डूबी दुनिया

महज 15 साल में मिल गई थी भारतीय टीम में जगह

भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल देश की सबसे बेहतरीन हॉकी खिलाड़ी मानी जाती हैं। उन्हें महज 15 साल की उम्र में ही राष्ट्रीय टीम में जगह मिल गई थी। वह अब तक कुल 240 मैच खेल चुकी हैं। रानी की कप्तानी में ही भारतीय महिला हॉकी टीम ने टोक्यो ओलम्पिक के लिए क्वालिफाई किया है। यह इसलिए भी ऐतिहासिक है, क्योंकि भारतीय महिला हॉकी टीम इससे पहले सिर्फ दो बार ओलंपिक के लिए क्वालिफाई कर पाई है।












LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here