SBI clarifies declaration of religion not mandatory while filling saving bank account forms – SBI में अकाउंट खोलने के लिए धर्म से जुड़ी जानकारी देना अनिवार्य नहीं

0
39


खास बातें

  1. एक सेक्शन में खाता धारक से उसके धर्म के बारे में पूछा गया है
  2. धर्म से जुड़ी जानकारी वाला कालम पहले भी था
  3. अल्पसंख्यक कल्याण योजनाओं के लिए लेते हैं जानकारी

नई दिल्ली:

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में सेविंग बैंक अकाउंट खोलने के लिए किसी व्यक्ति को उसके धर्म से जुड़ी जानकारी देना अनिवार्य नहीं है. SBI सूत्रों के मुताबिक स्टेट बैंक में अकाउंट खोलने के लिए किसी शख्स को अपने धर्म के बारे में जानकारी देना ज़रूरी नहीं है. बैंक के फार्म में धर्म के बारे में पूछा ज़रूर गया है लेकिन ये जानकारी देना ज़रूरी नहीं है. अगर कोई व्यक्ति जानकारी साझा नहीं करना चाहता है, तो वो कालम खाली छोड़ सकता है. SBI के बैंक फार्म में कोई बदलाव नहीं किया गया है. धर्म से जुड़ी जानकारी वाला कालम पहले भी था.  

टिप्पणियां

दरअसल एनडीटीवी ने एसबीआई से जब सेविंग बैंक अकाउंट का फार्म लिया तो उसमें दूसरे पेज पर कालम 6 में Additional Details सेक्शन में खाता धारक से उसके धर्म के बारे में पूछा गया है.

यूको बैंक के पूर्व सहायक महाप्रबंधक जेएल अरोड़ा भी कहते हैं कि ये जानकारी सरकारी बैंकों में पहले भी ली जाती थी. पूर्व वित्त सचिव सी एम वासुदेव मानते हैं कि अल्पसंख्यकों के कल्याण से जुड़ी सरकारी योजनाओं के तहत फंड्स ट्रांसफर करने के लिए उनके धर्म के बारे में जानकारी होना आवश्यक है क्योंकि सरकारी योजनाओं के लिए Direct Benefit Transfer (DBT) Scheme और KYC details जरूरी है. सरकार और आरबीआई भी बैंकों से अल्पसंख्यकों के लिए आवंटित की गई वेलफेयर फंड्स की जानकारी मांगते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here