Services And Composites Sector Increased After Infrastructure Sector – इंफ्रा के बाद सर्विस और कंपोजिट सेक्टर में इजाफा, 7 साल के उच्चतम स्तर पर

0
29


नई दिल्ली। इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर के पीएमआई में सुधार की खबर के बाद मोदी सरकार के लिए अब बड़ी खबर सर्विस सेक्टर से आई है, जो आर्थिक सुस्ती दूर होने के संकेत दे रहे हैं। आंकड़ों के सर्विस सेक्टर का पीएमआई जनवरी के महीने में 7 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया है। जानकारों के अनुसार नई डिमांड पैदा होने, बाजार में अनुकूल परिस्थितियां और सकारात्मक कारोबारी धारणा पैदा होने की वजह से सर्विस सेक्टर के इंडेक्स में इजाफा हुआ है।

यह भी पढ़ेंः- कर्ज में डूबी आरइंफ्रा से अनिल अंबानी के बेटों ने दिया 6 महीने में इस्तीफा

7 साल के उच्चतम स्तर पर सर्विस सेक्टर
आईएचएस मार्केट इंडिया की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार सर्विसेस बिजनेस एक्टिविटी इंडेक्स जनवरी में 55.5 अंक पर है, जबकि दिसंबर में यह 53.3 अंक था। यह 2013 के बाद सर्विस सेक्टर का सबसे बेहतर पीएमआई है। आईएचएस मार्केट की चीफ इकोनॉमिस्ट पॉलियाना डि लीमा के अनुसार साल की शुरूआत में सर्विस सेक्टर में जान आई है जो कि देश की इकोनॉमी के लिए काफी अच्छे संकेत है।

यह भी पढ़ेंः- अमूल दिया स्पष्टीकरण, नहीं बढ़ने जा रहे हैं दूध के दाम

मांग और बिक्री में हुअर इजाफा
इस अवधि में नए ऑर्डर मिलने की स्थिति भी सात साल के सबसे बेहतर स्तर पर है। अधिकतर नए ऑर्डर घरेलू बाजार से मिले हैं। जबकि इस साल की शुरुआत से सेवा के निर्यात में गिरावट देखी गई है। इसकी वजह चीन, यूरोप और अमेरिका में मांग का कमजोर होना है। लीमा के मुताबिक बिक्री में इजाफा होने के कारण कारोबार और कारोबारियों की आय में इजाफा हुआ है। जिसकी वजह से मांग पूरी करने के लिए सेवा प्रदाताओं ने अपनी क्षमता को बढ़ाना जारी रख हुआ है। वहीं रिपोर्ट में कहा गया है कि यह समय नौकरी तलाशने वालों के लिए भी अच्छी खबर है, वो भी तब जब मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर का पीएमआई 8 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया है।

यह भी पढ़ेंः- दुकानदार से बिल लेने पर लोगों को एक करोड़ रुपए का इनाम देगी मोदी सरकार

कंपोजिट पीएमआई में भी इजाफा
वहीं दूसरी ओर कंपोजिट पीएमआई उत्पादन सूचकांक में भी इजाफा देखने को मिला है। इस क्षेत्र का पीएमआई 7 सालों के उच्चतम स्तर पर चला गया है। आंकड़ों के अनुसार कंपोजिट पीएमआई आउटपुट इंडेक्स जनवरी में सात साल के उच्चतम स्तर पर आते हुए 56.3 अंक पर पहुंच गया है। दिसंबर के महीने में यह 53.7 अंकों पर था। एकीकृत पीएमआई आउटपुट, सेवा और विनिर्माण क्षेत्र दोनों की गतिविधियों को दर्शाता है। पीएमआई का 50 अंक से नीचे रहना सेक्टर में गतिविधियों के संकुचन और 50 अंक से ऊपर रहना गतिविधियों के विस्तार को अंकित करता है।






LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here