Shares Of 26 Percentage Rise In News Of SBI Buying Stake In Yes Bank – SBI के Yes Bank में हिस्सेदारी खरीदने की खबरों से शेयरों में आया 26 फीसदी की उछाल

0
8


  • ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार, सरकार SBI के यस बैंक रेस्क्यू प्लान को कर सकती है मंजूर
  • इस खबर के बाद यस बैंक के शेयरों में देखने को मिला 19 फीसदी तक का उछाल
  • एसबीआई के शेयरों में देखने को मिल रही 2 फीसदी की तेजी, शुरुआत में थी गिरावट

नई दिल्ली। यस बैंक के रेस्क्यू को लेकर सरकार और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने आगे की ओर कदम बढ़ा दिए हैं। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार एसबीआई जल्द ही यस बैंक में हिस्सेदारी खरीद सकता है। वहीं सरकार भी जल्द ही एसबीआई के यस बैंक रेस्क्यू प्लान को मंजूरी दे सकती है। यहां तक कि सरकार एसबीआई को यस बैंक में हिस्सेदारी कंसोर्टियम बनाने के लिए भी बोल सकती है। रिपोर्ट के अनुसार अभी तक एसबीआई की ओर से इस बात की पुष्टी नहीं की गई है। इस खबर के आने के बाद यस बैंक के शेयरों में करीब 26 फीसदी की तेजी देखने को मिल रही है।

यह भी पढ़ेंः- सचिन बंसल पर पत्नी ने लगाया दहेज उत्पीड़न का आरोप, कोर्ट से मिली राहत

यस बैंक और एसबीआई शेयरों में तेजी
इस खबर के आने के बाद यस बैंक के शेयरों में 12 बजकर 5 मिनट पर करीब 26 फीसदी की तेजी देखने को मिल रही है। मौजूदा समय में कंपनी का शेयर करीब 37 रुपए पर कारोबार कर रहा है। वहीं कल कंपनी के शेयर 29.40 रुपए प्रति शेयर पर बंद हुआ था। वहीं दूसरी ओर देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के शेयरों में करीब 2 फीसदी की तेजी देखने को मिल रही है। मौजूदा समय में कंपनी का शेयर 291 रुपए प्रति शेयर पर कारोबार कर रहा है। कंपनी कंपनी का शेयर 285.30 रुपए पर बंद हुआ था।

यह भी पढ़ेंः- विदेशी बाजारों की वजह से शेयर बाजार में बढ़त, सेंसेक्स 200 अंक उछला, विदेशी निवेशकों में घबराहट जारी

629 रुपए का घाटा
यस बैंक को मौजूदा वित्तीय वर्ष की दूसरी तिमाही में 629 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था। जबकि बैंक तीसरी तिमाही के नतीजे जारी ना करते हुए बयान दिया था कि वो 14 मार्च को नतीजे जारी करेंगे। बैंक एक साल से भी ज्यादा समय से मुश्किलों में है। आरबीआई ने 2018 में यस बैंक के पूर्व सीईओ और प्रमोटर राणा कपूर का कार्यकाल घटाया था। पिछले साल मार्च में नए सीईओ रवनीत गिल जब से के लिए पूंजी जुटाने का प्रयास कर रहे हैं। नियमों के अनुसार न्यूनतम पूंजी रेश्यो को बढ़ाने के लिए यस बैंक रकम जुटाना चाहता है। मैनेज्मेंट ने सितंबर 2019 में 14,000 करोड़ रुपए जुटाने की प्लानिंग के बारे में जानकारी दी थी। अगस्त 2018 में यस बैंक का शेयर 400 रुपए था, जो मौजूदा समय में 37 रुपए पर आ गया है।







Show More










LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here