Sheena Bora Murder Case Court Grants Bail To Peter Mukherjee – शीना बोरा हत्याकांड : अदालत ने पीटर मुखर्जी को दी जमानत, इसके बावजूद नहीं आएंगे बाहर

0
26


Peter Mukherji को बॉम्बे हाईकोर्ट ने जमानत देते हुए कहा कि प्रथम दृष्टया में उनके खिलाफ कोई सबूत नहीं मिले हैं।

मुंबई : शीना बोरा हत्याकांड (Sheena Bora Murder) के अभियुक्त और इंद्राणी मुखर्जी के पूर्व पति पीटर मुखर्जी (Peter Mukherji) को गुरुवार को बॉम्बे हाईकोर्ट ने जमानत दे दी। हालांकि इसके बावजूद वह जेल से बाहर नहीं आ पाएंगे। हाईकोर्ट ने सीबीआई के अनुरोध पर छह सप्ताह के लिए इस आदेश के अमल पर रोक लगा दी है, ताकि वह सीबीआई सुप्रीम कोर्ट में अपील दायर कर सकें।

अदालत ने कहा- प्रथम दृष्टया में साक्ष्य नहीं

जमानत देते हुए अदालत ने कहा कि प्रथमदृष्टया मुखर्जी के खिलाफ अपराध में शामिल होने के सबूत नहीं है। न्यायमूर्ति नितिन सांबरे ने मुखर्जी को दो लाख रुपए के मुचलके पर जमानत दी। न्यायमूर्ति सांबरे ने कहा कि जब अपराध हुआ, तब पीटर मुखर्जी भारत में नहीं था। उन्होंने जमानत देते हुए स्वास्थ्य कारणों का भी हवाला दिया। न्यायमूर्ति सांबरे ने कहा कि आवेदक चार साल से भी ज्यादा समय से कारावास में है और हाल में ही उसकी बाईपास सर्जरी हुई है।

 

गवाहों से संपर्क न करने की दी हिदायत

पीटर मुखर्जी को इंद्राणी मुखर्जी की बेटी शीना बोरा पर हत्या का आरोप है। उन्हें 19 नवंबर 2015 को इस आरोप में गिरफ्तार किया गया था। पीटर मुखर्जी के साथ इस मामले में उनकी पत्नी इंद्राणी मुखर्जी भी मुख्य आरोपी हैं। सीबीआई के मुताबिक पीटर मुखर्जी ने इंद्राणी मुखर्जी, इंद्राणी के पूर्व पति संजीव खन्ना के साथ मिलकर शीना की हत्या करने की साजिश रची। शीना की 24 अप्रैल 2012 को कथित रूप से हत्या कर दी गई थी। अदालत ने साथ में मुखर्जी को यह भी निर्देश दिया कि वह अपनी बेटी विधि, बेटे राहुल मुखर्जी और इस मामले के अन्य गवाहों से कोई संपर्क न करे।









LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here