Sourav Ganguly says, Imran Khans UNGA speech was poor

0
91


टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ( Virender Sehwag)के बाद पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने भी संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के भाषण (Imran Khan’s Speech) की कड़ी आलोचना की है. पूर्व क्रिकेटर सहवाग ने गुरुवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पर चुटकी लेते हुए कहा था कि पाकिस्तानी टीम के पूर्व कप्तान अपनी बेइज्जती कराने के नए-नए तरीके निकालने में लगे हैं. सहवाग ने ट्वीट किया, “एंकर ने कहा, आप वेल्डर की तरह बातें कर रहे हैं. यूएन में बकवास भाषण के बाद लगता है कि इस इंसान ने अपने आप को बेइज्जत करने के नए-नए तरीके निकाले हैं.” गौरतलब है कि पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और मौजूदा समय में मुल्क के प्रधानमंत्री इमरान ने 27 सितंबर को यूएन जनरल असेंबली में भाषण देते हुए भारत को न्यूक्लियर वॉर की धमकी तक दी थी. सहवाग के ट्वीट के जवाब में गांगुली (Sourav Ganguly) ने लिखा, ‘वीरू..मैंने इसे देखा और हैरान हूं. दुनिया जिसे शांति की जरूरत है..एक देश के तौर पर पाकिस्तान को इसकी सबसे ज्यादा जरूरत है.. और नेता ऐसी बेकार की बातें कर रहे हैं..ये वह क्रिकेटर इमरान खान नहीं हैं जिन्हें दुनिया जानती है..यूएन में भाषण बकवास था. ‘

रॉबिन उथप्पा का खुलासा, विनय कुमार की ‘मदद’ के बाद बेहतर होती गई  Mayank Agarwal की बैटिंग

गौरतलब है कि इससे पहले भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh)और मोहम्मद शमी (Mohammad Shami)ने भारत को धमकी देने के बयान को लेकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की आलोचना की है. इमरान ने हाल ही में यूएनजीसी में भाषण देते हुए नफरत की भाषा बोली थी.शमी ने महात्मा गांधी की 150वीं वर्षगांठ पर ट्वीट किया था, “महात्मा गांधी ने अपनी जिंदगी में प्यार, भाईचारे और शांति का संदेश दिया. इमरान खाने ने यूएन के मंच से धमकी दी और नफरत पर बात की. पाकिस्तान को ऐसा नेता चाहिए जो विकास, नौकरियों और आर्थिक तरक्की की बात करे न कि युद्ध और आंतकवाद को पनाह देने की.”

इसी तरह स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह ने अपने ट्वीट ने कहा, “यूएनजीए के भाषण में भारत के खिलाफ न्यूक्लियर लड़ाई के संकेत दिए गए. एक मुख्य वक्ता होने के नाते इमरान खान द्वारा ‘खूनी संघर्ष’, ‘अंत के लिए लड़ाई’ जैसे शब्दों का प्रयोग दो देशों के बीच सिर्फ नफरत को बढ़ावा देगा. एक खिलाड़ी होने के नाते मुझे उनसे शांति को बढ़ावा देने की उम्मीद थी.” (IANS से भी इनपुट)

वीडियो: वीरेंद्र सहवाग से एनडीटीवी की खास बातचीत..


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here