Stock Market Closed With Historical Fall, Loss Of About 7 Lakh Crores – शेयर बाजार 1942 अंकों की ऐतिहासिक गिरावट के साथ बंद, करीब 7 लाख करोड़ रुपए का नुकसान

0
6


नई दिल्ली। रूस और सउदी अरब के बीच चल रहे क्रूड ऑयल प्राइस वॉर के कारण सोमवार को होली के दिन शेयर बाजार में हाहाकार मच गया। सेंसेक्स अंकों के लिहाज से ऐतिहासिक गिरावट के साथ बंद हुआ। वहीं निफ्टी भी 15 महीने के निचले स्तर पर आकर बंद हुआ। वहीं दूसरी ओर रिलायंस के शेयरों में 12 फीसदी से ज्यादा की गिरावट देखने को मिली। यस बैंक का शेयर 30 फीसदी से ज्यादा की बढ़त के साथ बंद हुआ। एक समय में सेंसेक्स 2300 से ज्यादा अंकों की गिरावट पर आ गया था। बाद में निचले स्तरों के शेयरों में रिवकरी आई। जानकारों की मानें तो रूस और ओपेक के बीच शुरू हुई क्रूड ऑयल प्राइस वॉर के कारण क्रूड ऑयल के दाम 31 डॉलर पर प्रति बैरल आ गए थे। जिसकी वजह शेयर बाजार में गिरावट देखने को मिली है। शुक्रवार को भी बाजार में बड़ी गिरावट देखने को मिली थी। बाजार में इस गिरावट के कारण निवेशकों को करीब 7 लाख करोड़ रुपए का नुकसान हो गया है।

शेयर बाजार में ऐतिहासिक गिरावट
आज शेयर बाजार में ऐतिहासिक गिरावट देखने को मिली है। बांबे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 1941.67 अंकों की गिरावट के साथ 35634.95 अंकों पर बंद हुआ है। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक निफ्टी 50 538 अंकों की गिरावट के साथ 10451.45 अंकों पर बंद हुआ है। जो 15 महीने का निचला स्तर है। बीएसई स्मॉल कैप 540.87, बीएसई मिड-कैप 655.93 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुए हैं। वहीं विदेशी निवेशकों का इंडेक्स सीएनएक्स मिडकैप 723 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुआ है।

बैंकिंग सेक्टर में बड़ी गिरावट
आज बैंकिंग और ऑयल सेक्टर में बड़ी गिरावट देखने को मिली। बैंक एक्सचेंज 1555.03 और बैंक निफ्टी 1314.75 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुए। वहीं तेल और गैस में 638.94 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुए। बीएसई ऑटो 568.81, कैपिटल गुड्स 663.32, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स 759.28, बीएसई एफएमसीजी 341.46, बीएसई हेल्थकेयर 445.50, बीएसई आईटी 806.16, बीएसई मेटल 605.72, बीएसई पीएसयू 279.33 और बीएसई टेक 386.98 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुए हैं।

रिलायंस के शेयरों में 12 फीसदी की गिरावट, 99463 करोड़ का नुकसान
वहीं दूसरी ओर मुकेश अंबानी के शेयरों में आज 12 फीसदी से ज्यादा की भारी गिरावट देखी गई। रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर आज 1113.15 रुपए प्रति शेयर पर बंद हुआ। जबकि शुक्रवार को कंपनी का शेयर 1270.05 रुपए पर बंद हुआ था। जिसकी वजह से कंपनी बीएसई पर मार्केट कैप 7,05,655.56 करोड़ रह गया। जबकि शुक्रवार को कंपनी का मार्केट कैप 8,05,118.66 करोड़ के आसपास था। दोनों दिनों के अंतर को देखें तो मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज के मार्केट कैप को 99463.10 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।

इन शेयरों में भी देखने को मिली गिरावट
वहीं बात दूसरे गिरावट वाले शेयरों की बात करें तो ओएनजीसी के शेयरों में 15.20 फीसदी की गिरावट देखने को मिली। आज एनएसई पर इस शेयर की सबसे ज्यादा पिटाई देखने को मिली। वहीं वेदांता के शेयरों में 14.27 फीसदी की गिरावट आई। जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज के शेयर 11.94 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुए। वहीं इंडसइंड बैंक के शेयरों में 10.33 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है।

यस बैंक के शेयर 30 फीसदी से ज्यादा उछले
वहीं दूसरी ओर यस बैंक के शेयर शुक्रवार की जबरदस्त गिरावट के बाद सोमवार को तेजी के साथ कारोबार किया। एसबीआई के चेयरमैन के बयान और यस बैंक नए प्रशासक के पॉजिटिव बयानों को लेकर यस बैंक का शेयर 30.96 फीसदी की बढ़त के साथ बंद हुआ। वहीं भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन के शेयरों में 5.16 फीसदी की बड़ी तेजी देखने को मिली। भारती इंफ्राटेल 3.26 फीसदी बढ़त देखने को मिली। आखिर में आयशर मोटर्स के शेयर्स 0.32 फीसदी की मामूली बढ़त के साथ बंद हुए हैं।

निवेशकों को 6.68 लाख करोड़ रुपए का नुकसान
आज शेयर बाजर के निवेशकों को भी बड़ा नुकसान हुआ। वास्तव में बीएसई के मार्केट कैप में बड़ी गिरावट देखने को मिली। शुक्रवार को जब बाजार बंद हुआ था तब बीएसई का मार्केट कैप 1,44,31,224.41 करोड़ रुपए पर था। वहीं आज जब मार्केट बंद हुआ तो बीएसई का मार्केट कैप 1,37,42,848.82 करोड़ रुपए पर बंद हुआ। ऐसे में दोनों दिनों का मार्केट कैप का अंतर देखें तो 6,68,375.59करोड़ रुपए बन रहा है। यही निवेशकों का नुकसान है।









LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here