Taylor Became 1st Player To Play 100 Matches In All 3 Format – तीनों फॉर्मेट में 100 मैच खेलने वाले पहले खिलाड़ी बने टेलर, तोहफे में मिली 100 शराब की बोतलें

0
7


अपनी इस उपलब्धि पर Ross Taylor ने कहा कि यह सुखद अहसास है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वह अब भी अच्छी क्रिकेट खेल रहे हैं।

वेलिंगटन : न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम (New zealand Cricket Team) के के अनुभवी बल्लेबाज रॉस टेलर (Ross Taylor) क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट टेस्ट, वनडे और टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 100 या इससे अधिक मैच खेलने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बन गए। इस मौके पर वेलिंगटन टेस्ट शुरू होने से पहले न्यूजीलैंड क्रिकेट ने टेलर का सम्मान 100 अलग-अलग स्वाद की वाइन की बोतलें देकर किया।

टी-20 सीरीज में अपना 100वां टी-20 मैच खेला था

टेलर ने टेस्ट सीरीज से पहले भारत के ही खिलाफ खेली गई टी-20 सीरीज के अंतिम मैच में अपना 100वां टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था और अब शुक्रवार को वेलिंगटन में वह अपना 100वां टेस्ट मैच खेल रहे हैं। टेलर कीवी टीम की तरफ से 231 वनडे खेल चुके हैं।

ऐसा है अंतरराष्ट्रीय करियर

दाएं हाथ के मध्यक्रम के बल्लेबाज टेलर कभी-कभार ऑफ ब्रेक गेंदबाजी भी कर लेते हैं। अपने साथियों में रॉस्को नाम से प्रसिद्ध टेलर ने 2006 में वनडे और टी-20 में पदार्पण किया था और 2007 में अपना पहला टेस्ट खेले थे। उन्होंने टेस्ट मैच में 19 शतक और 33 अर्धशतक की मदद से 7,174 रन बनाए हैं। टेस्ट में टेलर का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 290 है। वहीं टेस्ट मैच में उनके नाम दो विकेट भी हैं। वहीं 231 वनडे में 21 शतक और 51 अर्धशतक की मदद से उन्होंने 8,570 रन बनाए हैं। उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 181 नाबाद है। टी-20 की बात करें तो 100 मैचों में उन्होंने सात अर्धशतकों की मदद से कुल 1909 रन बनाए हैं।

बता दें कि टेलर ने टेस्ट और वनडे दोनों में कीवी टीम की ओर से सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं। वहीं टी-20 में वह मार्टिन गुप्टिल और ब्रेंडन मैक्कुलम के बाद तीसरे स्थान पर हैं।

खुश हैं टेलर

35 साल के टेलर ने कहा कि 100 टेस्ट खेलने का शानदार अहसास है। उन्होंने बताया कि टेस्ट मैच की पूर्व संध्या पर खास कार्यक्रम का आयोजन कर उन्हें एक मोमेंटो दिया गया। टेलर ने कहा कि उन्हें लगता है कि वह अब भी इस टीम के लायक हैं। वह अच्छी फील्डिंग कर रहे हैं और अब भी रनों के भूखे हैं। वह इस उपलब्ध से बेहद खुश हैं।

न्यूजीलैंड क्रिकेट ने किया सम्मान

इस मौके पर न्यूजीलैंड क्रिकेट ने टेलर का सम्मान खास तरीके से किया। वेलिंगटन टेस्ट से पहले उन्हें अलग-अलग स्वाद वाली शराब की 100 बोतलें गिफ्ट की। बता दें न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड अपने किसी खिलाड़ी के 100 टेस्ट खेलने पर उन्हें तोहफे में 100 शराब की बोतलें देता है। टेलर ने इस तोहफे के बारे में बताते हुए कहा कि शराब की इन 100 बोतलों की एक खासियत यह भी है कि यह सभी शराब की बोतलें अलग-अलग टेस्ट वाली है। जब उनसे पूछा गया कि वह इन बोतलों का क्या करने वाले हैं तो उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर इन्हें पीने के लिए उन्हें किसी का साथ चाहिए होगा।

 

ऐसे शुरू हुई शराब गिफ्ट करने की परंपरा

बताते हैं कि यह परंपरा पूर्व कीवी कप्तान स्टीफन फ्लेमिंग के शौक के कारण शुरू हुई थी। फ्लेमिंग न्यूजीलैंड के लिए 100 टेस्ट खेलने वाले पहले खिलाड़ी थे। उन्हें वाइन पीना बहुत पसंद था। इसलिए उन्हें 100वां टेस्ट खेलने पर न्यूजीलैंड क्रिकेट ने शराब की 100 बोतलें दी थीं। इसके बाद जब डेनियल विटोरी और ब्रैंडन मैक्कुलम ने अपने-अपने 100 टेस्ट पूरे किए तब भी बोर्ड ने उन्हें गिफ्ट में यही उपहार दिया। इसके बाद तो यह परंपरा ही बन गई। टेलर 100 टेस्ट खेलने वाले चौथे कीवी खिलाड़ी हैं।










LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here