Three Hundred Young Entrepreneurs Of Chhattisgarh Ready To Become Entr – छत्तीसगढ़ के तीन सौ युवा उद्यमी बनने को तैयार

0
34


– स्टार्ट-अप के प्रति युवाओं का बढ़ा रूझान
– डॉ. एस. भारतीदासनस्टार्ट-अप को प्रोत्साहित करने कार्यशाला का आयोजन

 

रायपुर। छत्तीसगढ़ में करीब तीन सौ उद्यमियों ने स्टार्ट-अप के लिए पंजीयन कराया है, जिसमें से लगभग डेढ़ सौ उद्यमी रायपुर जिले के तथा इसके बाद दुर्ग और बिलासपुर जिले के हैं। ईज ऑफ ड्यूंग बिजनेस एमएसएमई और स्टार्ट-अप योजना के प्रचार-प्रसार के लिए शनिवार को रायपुर के शहीद स्मारक भवन में जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र, रायपुर, बलौदाबाजार और महासमुन्द के संयुक्त तत्वावधान में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया है। कार्यशाला में औद्योगिक समूहों के पदाधिकारियों, उद्योगपतियों, तकनीकी कालेजों एवं आईटीआई के विद्यार्थियों सहित रायपुर, बलौदाबाजार और महासमुंद जिले के महाविद्यालयों के छात्र- छात्राएं शामिल हुए।

कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने कहा कि स्टार्टअप आज की बहुआयामी आवश्यकता बन गयी है। वर्तमान युवा पीढ़ी की सोच बेहद सकारात्मक है और वे उर्जा से भरपूर है। जब कोई चीज अपने शिखर पर होती है तब उसके द्वारा लिए गए निर्णय एवं कार्य काफी परिणाममूलक होते हैं।

मुख्य महाप्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र, रायपुर टी.आर.वैद्य ने युवाओं को स्टार्ट-अप के बारे में जानकारी दी तथा भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा दिए जा रहे प्रोत्साहन, सहायता, और अनुदान आदि के बारे में बताया। उन्होंने स्टार्ट-अप प्रारंभ करने के संबंध में विशेषज्ञ दल द्वारा दी जा रही जानकारियां का भरपूर उपयोग करने का आग्रह किया।

कार्यक्रम के विशेष अतिथि तथा औद्योगिक संघ उरला के महासचिव विक्रम जैन ने कहा कि कार्यशाला छत्तीसगढ़ के उद्यमियों और उद्योगपतियों के साथ-साथ उद्यमी युवाओं के लिए काफी लाभदायक सिद्ध हो सकती है। जिला व्यापार एवं उद्योग कार्यालय के उप संचालक संजय राणा ने कहा कि स्टार्ट-अप प्रारंभ करने के इच्छुक युवा हेल्पलाईन नम्बर- 1800-233-3943 अथवा ई-मेल में सम्पर्क कर सकते हैं। जिला अग्रणी बैंक के अधिकारी चैहान ने स्टार्ट-अप सहित विभिन्न बैंकिंग सेवाओं व योजनाओं की जानकारी दी।



[ad_2]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here