Truth Behind Say Namastey Video Conferencing App Launches By Government Of India – Namaste नाम से सरकार ने लॉन्च नहीं किया है कोई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप, जानें सच्चाई

0
40


ख़बर सुनें

लॉकडाउन के दौरान भारत समते पूरी दुनिया में जूम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप का जमकर इस्तेमाल हो रहा है, लेकिन हाल ही में जूम एप के पांच लाख अकाउंट हैक हुए थे जिसके बाद भारत सरकार ने जूम एप के इस्तेमाल को लेकर चेतावनी जारी की थी। जूम एप के सीईओ ने भी प्राइवेसी की खबरों पर मुहर लगाई और कहा कि जल्द ही इसे फिक्स किया जाएगा।

इसी बीच भारत की अंग्रेजी न्यूज वेबसाइट पर एक खबर पब्लिश हुई कि भारत सरकार ने जूम एप की टक्कर में देसी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से-नमस्ते (Say Namaste) लॉन्च कर दिया है। रिपोर्ट में कहा गया कि से नमस्ते एप फिलहाल बीटा वर्जन पर है। जल्द ही इसका फाइनल वर्जन रिलीज किया जाएगा। 

रिपोर्ट में दावा था कि इस एप को मुंबई की वेब एप्लिकेशन और सॉफ्टवेयर कंपनी इन्सक्रिप्ट ने बनाया है। यह मोबाइल एप अपने यूजर्स को मुफ्त में वीडियो क्रॉन्फ्रेंसिंग करने की सुविधा देता है। से-नमस्ते मोबाइल एप को गूगल प्ले स्टोर और आईओएस के एप से स्टोर पर इस सप्ताह के अंत तक उपलब्ध कराया जाएगा।

क्या है से नमस्ते एप की सच्चाई?
से नमस्ते एप की खबर वायरल होने के बाद प्रेस इंफॉर्मेशन ब्योरी (पीआईबी) की फैक्ट चेकिंग टीम ने इस तरह के किसी एप की लॉन्चिंग का खंडन किया है। पीआईबी ने कहा है कि सरकार ने इस नाम से कोई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप लॉन्च नहीं किया है और ना ही वह इस तरह के एप का समर्थन करती है। तो आपने भी अपने फोन में से नमस्ते एप को डाउनलोड किया है तो उसे तुरंत डिलीट करें, क्योंकि इसके साथ प्राइवेसी का मसला हो सकता है।

लॉकडाउन के दौरान भारत समते पूरी दुनिया में जूम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप का जमकर इस्तेमाल हो रहा है, लेकिन हाल ही में जूम एप के पांच लाख अकाउंट हैक हुए थे जिसके बाद भारत सरकार ने जूम एप के इस्तेमाल को लेकर चेतावनी जारी की थी। जूम एप के सीईओ ने भी प्राइवेसी की खबरों पर मुहर लगाई और कहा कि जल्द ही इसे फिक्स किया जाएगा।

इसी बीच भारत की अंग्रेजी न्यूज वेबसाइट पर एक खबर पब्लिश हुई कि भारत सरकार ने जूम एप की टक्कर में देसी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से-नमस्ते (Say Namaste) लॉन्च कर दिया है। रिपोर्ट में कहा गया कि से नमस्ते एप फिलहाल बीटा वर्जन पर है। जल्द ही इसका फाइनल वर्जन रिलीज किया जाएगा। 

रिपोर्ट में दावा था कि इस एप को मुंबई की वेब एप्लिकेशन और सॉफ्टवेयर कंपनी इन्सक्रिप्ट ने बनाया है। यह मोबाइल एप अपने यूजर्स को मुफ्त में वीडियो क्रॉन्फ्रेंसिंग करने की सुविधा देता है। से-नमस्ते मोबाइल एप को गूगल प्ले स्टोर और आईओएस के एप से स्टोर पर इस सप्ताह के अंत तक उपलब्ध कराया जाएगा।

क्या है से नमस्ते एप की सच्चाई?
से नमस्ते एप की खबर वायरल होने के बाद प्रेस इंफॉर्मेशन ब्योरी (पीआईबी) की फैक्ट चेकिंग टीम ने इस तरह के किसी एप की लॉन्चिंग का खंडन किया है। पीआईबी ने कहा है कि सरकार ने इस नाम से कोई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप लॉन्च नहीं किया है और ना ही वह इस तरह के एप का समर्थन करती है। तो आपने भी अपने फोन में से नमस्ते एप को डाउनलोड किया है तो उसे तुरंत डिलीट करें, क्योंकि इसके साथ प्राइवेसी का मसला हो सकता है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here